ऑफिस में ज्‍यादा मेहनत कॅरियर के लिए नुकसानदेह

लंदन: अक्‍सर कहा जाता है कि मेहनत करने वालों को जल्‍दी प्रमोशन मिलता है और उनके वेतन में भी अच्‍छी बढ़ोतरी होती है। ऐसे कर्मचारी अपने सहकर्मियों की अपेक्षा अधिक खुशहाल रहते हैं। यह अध्‍ययन यूनीवर्सिटी ऑफ लंदन और ईएससीपी यूरोप बिजनेस स्‍कूल ने किया है। इस नए अध्‍ययन में कहा गया है कि ऑफिस में बहुत ज्‍यादा मेहनत करना न केवल आपकी सेहत के लिए अच्‍छा नहीं होता है, बल्‍कि करियर के लिहाज से भी नुकसानदेह है।

शोधकर्ताओं ने अध्‍ययन के दौरान देखा कि ऑफिस में अत्‍यधिक मेहनत करने वाले कर्मचारी अन्‍य साथियों के मुकाबले असंतुष्‍ट रहते हैं और उन्‍हें नौकरी की सुरक्षा व प्रमोशन की चिंता ज्‍यादा सताती रहती है। शोधकर्ता टीम का सुझाव है कि अगर नियोक्‍ता अपने कर्मियों को कब और कैसे काम करने की आजादी देते हैं तो इससे उनके ऊपर से प्रेशर कुछ कम किया जा सकता है। कंपनी की प्रोडक्‍टिविटी में भी इजाफा होगा और कर्मचारी की निष्‍ठा भी बनी रहेगी। इस अध्‍ययन के लिए 36 यूरोपीय देशों के 52000 कर्मचारियों के आंकड़ों का आकलन किया।

मोदी का चुनावी मंत्र, कार्यकर्ता जीतें जनता का दिल, दल जीत जाएगा

इन कर्मचारियों ने यूरोपियन वर्किंग कनडीशन्‍स सर्वे में हिस्‍सा लिया था। यह सर्वे 1990 लांच किया गया था। इसमें विभिन्‍न हालात में काम करने के तरीकों से जूझने वाले कर्मियों और उसके जोखिम पर चर्चा की गई थी। मालूम हो कि आप ऑफिस में बड़ी मेहनत से दिनभर काम करते रहते हैं, फिर भी प्रमोशन मिलने की जगह परफॉर्मेंस और खराब बता दी जाती है। अगर आपके साथ भी ऐसा ही होता है, तो इस अध्‍ययन पर आपको जरूर गौर फरमाना चाहिए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper