गोमती सफाई के लिए स्टीमर खरीदेगा नगर निगम

लखनऊ। गोमती नदी में जलकुम्भी को साफ करने के लिए स्टीमर की मदद नगर निगम लेगा। राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा परियोजना के अंतर्गत करीब पौने दो करोड़ की लागत से यह मशीन खरीदे जाने का प्रस्ताव प्रमुख सचिव नगर विकास को भेजा गया है। नदी सफाई के विशेष अभियान के दूसरे दिन 200 टन कूड़ा निकला। नगर निगम और ईको ग्रीन के करीब 7200 कर्मचारियों ने 12 किमी में नदी की सफाई की। तट तो साफ हो गए लेकिन जलकुम्भी साफ नहीं हो सकी है।

नगर आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी ने बताया जलकुम्भी हो साफ करने के लिए स्टह्नीमर बोट का सहारा लिया जाएगा। कोयम्बटूर से मशीन यहां सफाई के लिए लायी जाएगी। त्रिपाठी ने बताया मशीन खरीदने की स्वी.ति और आने में समय लगेगा। तब तक के लिए किराए पर मशीन लाने के लिए कहा गया है। नगर आयुक्त ने बताया नदी से जलकुम्भी व गंदगी को साफ करना काफी कठिन काम है। इसमें काफी समय भी लग सकता है। ऐसे में मशीन के सहयोग से करीब 15 से 20 दिन में नदी साफ हो जाएगी।

नमामि गंगे परियोजना में यूपी के पांच शहरों में इस मशीन से नदी की सफाई की जा रही है। कानपुर, इलाहाबाद, वाराणसी, मथुरा व मेरठ में स्ट्रीमर के जरिए जलकुम्भी हटाने का काम हो रहा है। कंपनी के प्रतिनिधि के अनुसार इस मशीन की कीमत करीब 1.57 से 1.75 करोड़ रपए तक है। कोयम्बटूर स्थित फैक्ट्री से यहां मशीन आएगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper