दूरदर्शन पर किया जाएगा राम जन्मभूमि परिसर में होने वाले पूरे कार्यक्रम का लाइव प्रसारण

अयोध्या: श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 5 अगस्त को अयोध्या आगमन को लेकर अधिकारिक बयान सामने आया है. राम मंदिर ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या आ रहे हैं. चंपत राय ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी राम मंदिर निर्माण कार्य का शुभारंभ करेंगे. साथ ही उन्होंने बताया कि 5 अगस्त को राम जन्मभूमि परिसर में होने वाले पूरे कार्यक्रम का लाइव प्रसारण दूरदर्शन पर किया जाएगा.

चंपत राय ने कहा कि देश के लोग टेलीविजन पर घर बैठे राम मंदिर भूमि पूजन का कार्यक्रम देख सकेंगे. चंपत राय ने लोगों से अपील की है कि कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए उन्हें अयोध्या आने का विचार त्याग देना चाहिए. सभी लोग घर में ही रहकर उत्सव मनाएं. चंपत राय ने लोगों से अपील की कि वे 5 अगस्त के दिन सुबह 11:30 बजे से 12:30 बजे तक अपने घरों में या पास के मंदिर में बैठकर भजन-कीर्तन करें, पूजा-अर्चना करें, प्रसाद वितरण करें और शाम के समय घर में दीपक जलाकर उत्सव मनाएं.

राम मंदिर ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय ने कहा, ”प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिस दिन राम मंदिर निर्माण कार्य की शुरुआत करेंगे वह हिंदुस्तान के लिए उत्सव का दिन होगा. वह दिन ऐतिहासिक होगा, स्वतंत्र भारत की ऐतिहासिक घटना होगी. देश बदल रहा है, गुलामी के प्रतीकों से मुक्ति पा रहा है.” आपको बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी के अयोध्या आगमन से पूर्व यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को राम जन्मभूमि परिसर में भूमि पूजन कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया. उन्होंने कार्यशाला में तराशे गए पत्थरों को देखा और कारसेवक पुरम में संतों के साथ एक बैठक भी की.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper