देश में स्वाइन फ्लू की चपेट में 6000 से ज्यादा लोग, अब तक 226 लोगों की मौत 

नई दिल्ली:  देश में स्वाइन फ्लू के मामले दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है। 2019 में 3 फरवरी तक देश में स्वाइन फ्लू के कुल 6701 मामले सामने आए हैं। वहीं, स्वाइन फ्लू के चलते अब तक 226 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, दिल्ली में स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या 1019 हो गई है। बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने बुधवार को एक बार फिर गाइडलाइन जारी की है। खांसने और छींकने के दौरान नाक-मुंह पर रुमाल रखने को कहा गया है।

स्वाइन फ्लू से मरने वालों की गिनती बढ़ती जा रही है। इनमें से ज्यादातर मौतें राजस्थान, गुजरात और पंजाब में हुई हैं। राजस्थान के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय पहले ही एक टीम रवाना कर चुका है। सूदन ने पंजाब और गुजरात के लिए भी टीम रवाना करने के निर्देश दिए। 48 घंटे के दौरान राजधानी में 124 मामले दर्ज किए गए हैं। साथ ही इस जनवरी से अब तक सिर्फ दिल्ली में ही स्वाइन फ्लू पीड़ितों की संख्या 1019 हो गई है।

जानिए क्या है स्वाइन फ्लू और उसके लक्षण
स्‍वाइन फ्लू नामक बीमारी तेजी से अपने पैर पसार रही है। हाल ही में, इस बीमारी ने भारत में भी दस्‍तक दे दी है। स्वाइन फ्लू का वायरस बहुत संक्रामक है। यह एक इनसान से दूसरे इनसान के बीच बहुत तेजी से फैलता है। इंफ्लूएंजा ए स्‍वाइन फ्लू वायरस के एक प्रकार ‘एच-1-एन-1‘ द्वारा संक्रमित व्‍यक्ति द्वारा दूसरे व्‍यक्ति को फैलता है। स्वाइन फ्लू में 100 डिग्री से ज्यादा का बुखार आना आम बात है। साथ ही सांस लेने में तकलीफ, नाक से पानी बहना, भूख न लगना, गले में जलन और दर्द, सिरदर्द, जोड़ों में सूजन, उल्टी और डायरिया भी हो सकता है। स्वाइन फ्लू से डरने या घबराने की जरूरत नहीं है। क्‍योंकि यह लाइलाज बीमारी नहीं है। थोड़ी सी एहतियात बरतकर इस बीमारी पर काबू पाया जा सकता है।

स्वाइन फ़्लू से बचने के लिए आपको बरतनी होंगी ये सावधानी

1. अगर अभी आपको स्वाइन फ्लू नहीं है और आप इस भयंकर बीमारी से बचना चाहते हैं तो आप डॉक्टर की सलाह लेकर Nasovac Vaccine ले सकते हैं।
2. स्वाइन फ्लू से प्रभावित शहरों में हमेशा मास्क पहन कर ही रहना चाहिए । इसके साथ ही ये भी सावधानी रखनी चाहिए की स्वाइन फ्लू के मरीज़ के साथ अपना सामान ना शेयर करें।
3. जैसे ही आपको स्वाइन फ्लू के लक्षण दिखे तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।
4. जब कभी भी आपको खांसी या फिर झींक आए तो चेहरा रुमाल से ढककर रखें। इसके बाद टिशू पेपर को डस्टबिन में फेंक दें.
5. अपनी इम्यूनिटी को ज्यादा से ज्यादा बढ़ाने की कोशिश करें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper