नये मंत्रियों ने कार्यभार संभाला अफसरों के साथ की बैठक

लखनऊ: सूबे में योगी मंत्रिमंडल के विस्तार के बाद नये विभागों को पाने वाले अधिकतर मंत्रियों ने सोमवार को अपना कार्यभार संभाल लिया और विभागीय अधिकारियों के साथ परिचयात्मक बैठक भी कर ली है। सूबे के वरिष्ठतम मंत्रियों में शामिल सुरेश कुमार खन्ना ने दो नये विभागों वित्त व चिकित्सा शिक्षा का कार्यभार संभाल लिया है। वह संसदीय कार्य मंत्री के तौर पर आवंटित कक्ष में काम करेंगे। अभी तक चिकित्सा शिक्षा व प्राविधिक शिक्षा विभाग संभालने वाले आशुतोष टण्डन गोपालजी ने नगर विकास विभाग का कार्यभार संभाल लिया है।

अपने नये विभाग का कार्यभार संभालने से पहले उन्होंने सुरेश खन्ना से मुलाकात की और खन्ना ने उन्हें विभागीय कामकाज में हर संभव सहयोग देने का भरोसा दिया। आबकारी की जगह अब सेहत विभाग का जिम्मा पाने वाले जय प्रताप सिंह का विधानभवन का कक्ष तो वही है, लेकिन कामकाज बदल गया। उन्होंने सोमवार को कार्यभार संभालने के बाद अधिकारियों के साथ लम्बी बैठक की और फिर कुछ देर के लिए अपने आवास पर गये। दोबारा फिर पांच बजे आकर उन्होंने अफसरों के साथ बैठक की। इसी तरह चिकित्सा व स्वास्य विभाग की जगह अब सात विभागों की कमान पाने वाले सरकार के प्रवक्ता व मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने भी अपने नये विभागों का कामकाज संभाल लिया है और अपने साथ जोड़े गये राज्यमंत्रियों के साथ बैठक भी की।

शुक्रवार को विभागों के बंटवारे के बाद ही जल शक्ति मंत्री डा. महेन्द्र सिंह और आबकारी व मद्य निषेध मंत्री राम नरेश अग्निहोत्री ने अपना कार्यभार संभाल लिया था। अग्निहोत्री ने सोमवार को विभाग के आला अफसरों के साथ बैठक की। उन्हें पूर्व वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल वाला कक्ष आंविटत किया गया है। विधानभवन के मुख्य भवन में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण को पूर्व परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वतंत्र देव सिंह वाला कक्ष आवंटित किया गया है, तो सत्यदेव पचौरी वाले कक्ष में चौधरी लक्ष्मी नारायण को शिफ्ट किया गया है।

कैबिनेट मंत्री रहीं डा. रीता बहुगुणा जोशी को आवंटित कक्ष में अब दारा सिंह चौहान कार्य करेंगे, तो सिंचाई मंत्री पद से हटाये गये धर्मपाल सिंह का कक्ष गन्ना विकास व चीनी उद्योग मंत्री सुरेश राणा को आवंटित किया गया है। परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अशोक कटारिया को बापू भवन में भेजा गया है। इसी तरह दूसरे नये राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) विभाग बदलने के बाद भी अपने पूर्व आवंटित कक्ष में बैठेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper