प्रतिभाएं घर-परिवार, शहर देखकर पैदा नहीं होतीं, इस छात्र का आविष्कार जानकार आप भी रह जाएंगे हैरान

लखनऊ: आवश्यकता आविष्कार की जननी है जैसी बातों को सही साबित करते हुए पूर्व माध्यमिक स्कूल कठिंगरा, काकोरी का छात्र शिवा रावत यूनीक मॉडल पर काम कर रहा है। ग्रामीण क्षेत्र में पढ़ रहे इस छात्र ने बैटरी और सोलर पैनल के सहारे बॉक्स लैंप विद फैन इजाद कर डाली।

इससे शिवा रावत ने छह स्केल बैटरी और सोलर पैनल के सारे एक बॉक्स बनाया जिसमें एक लाइट और पंखा लगाया। सूर्य की ऊर्जा बैटरी चार्ज करके उससे लाइट और पंखा कई घंटे तक चलाया जा सकता है। जिला स्तरीय प्रतियोगिता के लिए 166 विद्यार्थियों का मॉडल प्रस्तुत करने के लिए चयन हुआ था। पूर्व माध्यमिक स्कूल कठिंगरा के हेड मास्टर शाहिद अली के मुताबिक शिवा रावत के पिता किसान हैं और मां गृहणी। शाहिद बताते हैं कि शिवा की विज्ञान में बहुत रुचि है।

कहते हैं न प्रतिभाएं घर-परिवार, शहर देखकर पैदा नहीं होतीं। काकोरी के कठिंगरा पूर्व माध्यमिक विद्यालय के छठवीं के शिवा ने इसे फिर साबित किया है। पिता शैलेंद्र किसान हैं। मां शिवदेवी भी घर के साथ-साथ किसानी में भी हाथ बंटाती हैं। शिवा पढ़कर कुछ बन जाए, इसलिए शैलेंद्र उसे गांव के ही स्कूल में पढ़ा रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper