लॉकडाउनः जिंदा शख्स को मृत बताकर एंबुलेंस से जा रहे थे घर, फर्जी डेथ सर्टिफिकेट भी मिला

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से निपटने के लिए देशभर में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन घोषित किया गया है। लोगों से अपने घरों में रहने के साथ पलायन ना करने की अपील की जा रही है, लेकिन लोग घर पहुंचने के लिए अजीबोगरीब तरीके निकालने लगे हैं। पुंछ जिले के सुरनकोट में एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहां एक व्यक्ति अपने ही मौत की झूठी साजिश रचकर तीन साथियों के साथ एंबुलेंस से गांव जा रहा था।

हालांकि पुलिस ने गांव सैला पहुंचने से पहले ही उनकी साजिश को बेनकाब कर दिया। फिलहाल पुलिस ने एंबुलेंस के चालक को गिरफ्तार कर चार को क्वारनटीन के लिए भेज दिया है। पुलिस को एक फर्जी मृत्य प्रमाण पत्र भी मिला है।

जानकारी के अनुसार, लॉकडाउन के दौरान सुरनकोट पुलिस की टीम गश्त पर थी। इस दौरान एक निजी एंबुलेंस (PB02CQ-6663) आती दिखी। पुलिस ने ऐंबुलेंस को रोक लिया और पूछताछ करने लगे। शक होने पर पुलिस ने जब ऐंबुलेस की जांच की तो उसमें मृत शख्स जीवित पाया गया। इसके बाद पुलिस सभी को थाने ले आए। जीवित शख्स का एक फर्जी मृत्य प्रमाणपत्र भी पुलिस को मिला है। पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ 188, 269, 420, 109 आईपीसी की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper