Unlock 3: माता वैष्णो देवी सहित 16 अगस्‍त से खुल जाएंगे जम्‍मू-कश्‍मीर के सभी धार्मिक स्थल

जम्मू: जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने मंगलवार को बड़ा फैसला लेते हुए कोरोना महामारी के प्रकोप को कम करने के लिए प्रदेश में बंद किए गए सभी धार्मिक स्थल 16 अगस्त से खोलने का फैसला किया है। हालांकि, सरकारी आदेश में माता वैष्णो देवी की यात्रा शुरू करने का अलग से कोई जिक्र नहीं है, लेकिन सूत्रों के अनुसार, इसी दिन से श्रद्धालुओं की सीमित संख्या के साथ यात्रा शुरू कर दी जाएगी।

जम्‍मू-कश्‍मीर के प्रमुख सचिव रोहित कंसल ने बताया कि 16 अगस्त, 2020 से जम्मू और कश्मीर में सभी धार्मिक स्थलों और पूजा स्थलों को खोलने का निर्णय लिया गया है। हालांकि, अभी धार्मिक जुलूस और बड़े धार्मिक आयोजन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेंगे, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा न हो।

वहीं, यात्रा और धार्मिक स्थलों के लिए अलग से दिशा निर्देश (एसओपी) जारी किए जाएंगे। बता दें कि माता वैष्णो देवी की यात्रा 19 मार्च को बंद की गई थी। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के अनलॉक-3 के दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। यह निर्देश बुधवार से अगले आदेश तक प्रभावी माने जाएंगे।

नए दिशानिर्देशों में सबसे अहम फैसला जम्मू-कश्मीर में धार्मिक स्थल खोलने को लेकर किया गया है। मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रहमण्यम की तरफ से जारी आदेश के अनुसार, अगले आदेश तक धार्मिक जुलूस और धार्मिक कार्यक्रम करने की इजाजत नहीं होगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper