अंडमान निकोबार में भूकंप के झटके, तीव्रता रिक्टर स्केल 4.3 मापी गई

नई दिल्ली: नई दिल्ली: आज तड़के अंडमान निकोबार द्वीप समूह पर भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल 4.3 मापी गई है. भूकंप का केंद्र दिगलीपुर से 110 किमी उत्तर-पश्चिम के इलाके में सतह से 50 किमी नीचे बताया जा रहा है. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, भूकंप मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात दो बजकर 17 मिनट पर आया. इस दौरान किसी भी तरह की क्षति और जानमाल की हानि की खबर सामने नहीं आई है.

इससे पहले कश्मीर में मंगलवार को सुबह 8.15 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 3.9 मापी गई थी. भूकंप का केंद्र श्रीनगर शहर से 14 किलोमीटर की दूरी पर स्थित था. भूकंप से कश्मीर में पहले बड़े पैमाने पर नुकसान हो चुका है, क्योंकि घाटी अत्यधिक संवेदनशील भूकंपीय क्षेत्र में स्थित है. साल 2005 में 8 अक्टूबर को आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.6 दर्ज की गई थी, इस दौरान 80,000 से अधिक लोगों की जान चली गई थी.

मंगलवार को ही इंडोनेशिया के मलुकु प्रांत में भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 5.8 दर्ज की गई. भूकंप दिन में 11.56 बजे आया, जिसका केंद्र बुरु जिले के दक्षिणपश्चिम से 126 किलोमीटर और समुद्र तल से 10 किलोमीटर नीचे था. हालांकि इस भूकंप की वजह से सुनामी नहीं आया. दिल्ली सहित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में पिछले दो महीने में 12-13 बार भूकंप के झटके लग चुके हैं. में सोमवार दोपहर को भी हल्का भूकंप आया, जिसकी रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 2.1 मापी गई.

लगातार आ रहे भूकंप के पीछे विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले वक्त में यह एनसीआर के लिए बड़े खतरे का संकेत है. लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है. बताया जा रहा है कि दिल्ली-एनसीआर में धरती के अंदर प्लेटों के एक्टिव होने से ऊर्जा निकल रही है, जिससे रह-रहकर झटके महसूस हो रहे हैं. बता दें कि भूकंप के लिहाज से 4 सिस्मिक जोन (2,3,4,5) में देश बंटा है. दिल्ली-एनसीआर जोन 4 में आता है. यह तबाही के मामले में दूसरे नंबर का जोन है. इस जोन में रिक्टर पैमाने पर सात से आठ तीव्रता का भूकंप आने की आशंका रहती है. दिल्ली-एनसीआर भूकंप के लिहाज से प्रबल खतरे वाले जोन हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper