अखिलेश का कानपुर मेट्रो के उद्घाटन पर करारा तंज, बोले- सपा ने किया शिलान्यास, नाकाम सीएम ने की देरी

उन्नाव: कानपुर मेट्रो का उद्घाटन आज कानपुर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया है। इस पर यूपी के पूर्व सीएम और कानपुर मेट्रो प्रोजेक्ट को लगातार अपना सपा सरकार का बताने वाले अखिलेश यादव की प्रतिक्रिया आई है। उन्होंने उन्नाव में आयोजित समाजवादी रथ यात्रा के पहले प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कहा है कि सपा सरकार में मेट्रो का शिलान्यास हुआ था, उसी मेट्रो का उद्घाटन किया जा रहा है।

यह मेट्रो बहुत पहले बन जाती लेकिन हमारे अनुपयोगी, नाकाम सीएम ने बहुत समय लगा दिया। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव दोपहर लगभग 12:15 बजे हेली काप्टर से उन्नाव राजकीय इंटर कालेज मैदान पहुंचे। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि हमारे मुख्यमंत्री ने बड़े-बड़े भाषण और विज्ञापनों में कहा है कि हमने लाखों नौकरियां दी हैं, तो युवाओं को नौकरियां क्यों नहीं मिली।

कोरोना काल में उन्नाव, प्रयागराज व काशी में लाशें बह रहीं थी सरकार कहती है कि आक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई। लोग सर्दी में तड़प रहे हैं कोई सुविधा नहीं दी जा रही है। मुख्यमंत्री समाजवादी सरकार में खरीदी गई गड़ी व प्लेन से ही चलते हैं। उप्र में चुनाव समय से होगा। उन्होंने कहा समाजवादी विजय रथ निकला है, आने वाले समय में इस झूठी सरकार का सफाया होगा।

भारतीय जनता पार्टी की सरकार झूठी सरकार है इसने तो यह भी कह दिया कि ऑक्सीजन से किसी की जान नहीं गई। आज अस्पतालों की बहुत बुरी दुर्दशा है, अस्पतालों में इलाज, दवाइयां, बेड नहीं है। आज लोग अस्पतालों में लोग तड़प रहे हैं लेकिन यह सरकार कोई इंतजाम नहीं कर पा रही है। अभी भी उन्नाव में किसी नौजवानों को लैपटाप नहीं मिला है। उन्होने जनता से सवाल किया बताओ बाबा झूठ बोलते हैं कि नहीं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper