अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट JP Center को बेचने की तैयारी, योगी सरकार लेगी अंतिम फैसला

लखनऊ: लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजैक्ट जेपी सेंटर (JP Center) को बेचने की तैयारी कर चुका है. जेपी सेंटर को बेचने के लिए एलडीए ने उत्तर प्रदेश शासन को प्रस्ताव भेजा है. इसकी वर्तमान कीमत 1642.83 करोड़ रुपए तय की गई है. अखिलेश यादव ने जेपी सेंटर का निर्माण शुरू हुआ था.

इसके निर्माण पर उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से 881.36 करोड़ खर्च हो चुके हैं. अभी काम पूरा करने के लिए 130.60 करोड़ रुपए की और जरूरत है. योगी सरकार ने पूर्व निर्धारित बजट में ही इस सेंटर के बचे काम को पूरा करने के लिए कहा था, लेकिन लखनऊ डेवलपमेंट अथॉरिटी ने इसमें असमर्थता जताई थी. अब एलडीए ने सरकार को इसे बेचने का प्रस्ताव भेजा है.

गोमती नगर के विपिन खंड में बने भव्य जेपी सेंटर में किसी 7 स्टार लग्जरी होटल जैसी सुविधाएं हैं. गेस्ट हाउस में 103 लग्जरी कमरे हैं. इसके अलावा 7 सुइट, हेल्थ सेन्टर, रेस्टोरेंट, हैंगिंग स्विमिंग पूल और हेलिपैड है. इसके अलावा कन्वेंशन ब्लॉक में 2000 लोगों के बैठने की क्षमता है. साथ ही 1000 लोगों के बैठने की क्षमता का ऑडिटोरियम इसके अंदर है. इनके अलावा भी कई बड़े सेमिनार हाल हैं.

सेंटर में एक ओलिंपिक साइज का स्विमिंग पूल, लॉन टेनिस कोर्ट, स्क्वॉश कोर्ट भी हैं. इन सबके अलावा 1000 वाहनों की क्षमता वाली मल्टी लेवल पार्किंग भी है. साथ ही सेंटर में बने म्यूजियम ब्लॉक में जय प्रकाश नारायण से जुड़ी चीजें रखी गई हैं. सेंटर का निर्माण कुल 75464 वर्गमीटर में किया गया है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper