अनुप्रिया ने मिशन अस्पताल में किया टेली मेडिसिन सेवा का उद्घाटन

वाराणसी ब्यूरो। केंद्रीय परिवार कल्याण एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना से देश के 10 करोड़ लोगों के स्वास्थ्य बीमा की खास योजना बनाई है। इस योजना में हर घर के एक दो सदस्य नहीं वरन जरूरत पडऩे पर सभी सदस्यों को पांच लाख रुपये की बीमा का लाभ मिलेगा। अनुप्रिया शनिवार को लक्सा स्थित रामकृष्ण मिशन अस्पताल में टेली मेडिसिन व मोबाइल मेडिकल वैन का उद्घाटन कर उपस्थित लोगों को सम्बोधित कर रही थी।

केन्द्रीय मंत्री ने पिछली केन्द्र और प्रदेश की सरकारों पर तंज कसते हुए कहा कि पूर्व की सरकारों की गलत नीतियों के चलते लोगों के स्वास्थ्य पर सीधा असर पड़ा है। आज भी देश चिकित्सकों की कमी से जूझ रहा है। देश में स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की संजीदगी और पहल का जिक्र कर केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि केन्द्र सरकार ने ऐसी योजनाएं बनाई हैं, जिससे अब गरीब हो या अमीर हर किसी का इलाज होगा।

इसके लिए वित्त मंत्री ने 1200 करोड़ का बजट भी जारी कर दिया है। इस बजट से मोबाइल मेडिकल वैन गांव-गांव ले जाने की योजना है। इस योजना में लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर उन्हें घर पर ही दवा भी दी जाएगी। केन्द्रीय मंत्री ने इस दौरान टेली मेडिसिन की जानकारी देकर बताया कि आने वाले दिनों में टेली मेडिसिन के नेटवर्क का काफी विस्तार किया जाएगा। सभी मेडिकल कॉलेजों को भी टेली मेडिसिन से जोड़कर गरीबों तक स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ पहुंचाया जाएगा। रामकृष्ण मिशन अस्पताल ग्रामीणों इलाकों में बीमार लोगों का इलाज टेली मेडीसिन द्वारा करेगा।

इसके पूर्व अस्पताल प्रबंधन, टाटा ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने केन्द्रीय मंत्री का स्वागत किया। अतिथियों का स्वागत करने के बाद अस्पताल के ग्रामीण स्वास्थ्य कार्यक्रम के समन्वयक स्वामी वरिष्ठानंद महाराज ने बताया कि वाराणसी, मिजापज़्ुर, सोनभद्र एवं आजमगढ़ में टेली मेडीसिन की एक-एक यूनिट लगाई जाएंगी। इन यूनिटों में जिले और आसपास के जिलों के ग्रामीण इलाकों में मधुमेह, कैंसर एवं हाइपरटेंसन से पीड़ित लोगों की पहचान की जाएगी। उन मरीजों का इलाज मिशन के अलावा बीएचयू, टाटा, एम्स आदि चिकित्सा संस्थानों के विशेषज्ञ चिकित्सकों के जरिये होगा। उन्होंने बताया कि मोबाइल मेडिसिन यूनिट के जरिए आंखों की जांच में मदद मिलेगी। इस समय अस्पताल का सचल चिकित्सा वाहन 10 गांवों में अपनी सेवाएं दे रहा है।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper