अपर्णा आयी शिवपाल के साथ, कुनबे में भगदड़

लखनऊ ब्यूरो। मुलायम सिंह यादव के सामने असमंजस का आलम यह है कि कभी वह बेटे अखिलेश यादव के साथ नई दिल्ली के जंतर मंतर पर मंच साझा करते हैं तो कभी उन्हे परिवार के दूसरे गुट शिवपाल सिंह यादव के साथ लखनऊ के लोहिया ट्रस्ट के कार्यक्रम में शामिल होना पड़ता है।

इसके अलावा शनिवार को लखनऊ में मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव ने शनिवार को शिवपाल के साथ एक कार्यक्रम में शामिल होकर स्पष्ट संदेश दे दिया कि वह अपने ज्येष्ठ और समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ राजनीतिक रूप से नहीं है।

राष्ट्रीय क्रान्तिकारी समाजवादी पार्टी के कार्यक्रम में शिवपाल यादव बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित थे। उनके बगल ही अपर्णा की कुर्सी लगायी गयी थी। अपर्णा की कार्यक्रम में मौजूदगी से साफ हो गया कि वह शिवपाल के साथ हैं। वहीं उन्होंने कहा भी चाचा जी हमारे चहेते नेता हैं। नेताजी के बाद मैंने इन्हीं को सबसे ज्यादा माना है। मैं चाहती हूं कि सेक्युलर मोर्चा आगे बढ़े। उन्होंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि चुनाव में अच्छे लोगों को चुनकर लाइए।

उत्तर प्रदेश की सियासत में लोकसभा चुनाव से पहले समाजवादी कुनबे में कई रंग देखने को मिल रहे हैं। मुलायम का कुनबा जहां पहले ही दो गुटों में बंट चुका है, वहीं अब उनके बीच शह और मात का खेल भी शुरू हो गया है। इनके बीच अपने बलबूते कुनबे को राजनीतिक अर्श पर पहुंचाने वाले मुलायम परिवार के हो रहे इस दो फाड़ को असहाय बुजुर्ग की तरह देखने को विवश हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper