अपोलोमेडिक्स हॉस्पिटल और रोटरी क्लब ने किया हेल्थ टॉक का आयोजन

लखनऊ: अपोलोमेडिक्स ने रोटरी क्लब के सहयोग से एक स्वास्थ्य वार्ता सत्र का आयोजन किया। सत्र का मुख्य विषय हृदय रोगों की रोकथाम था। आज के दौर में हृदय रोग (सीवीडी) विश्व स्तर पर मृत्यु का प्रमुख कारण हैं। बदलती जीवनशैली के कारण आज युवा पीढ़ी भी इस गंभीर बीमारी से पीड़ित हो रही है। हृदय रोग कई प्रकार के होते हैं जैसे कोरोनरी धमनी रोग, जन्मजात हृदय दोष, एरिथमिया यानि अतालता आदि।

अपोलोमेडिक्स अस्पताल के एमडी/सीईओ डॉ मयंक सोमानी ने कहा कि आज युवा पीढ़ी भी हृदय रोग, मधुमेह, रक्तचाप आदि जैसी गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित हो रही है और यह केवल अनियमित जीवनशैली के कारण है। हृदय रोग प्रति वर्ष लगभग 1.79 करोड़ लोगों की मृत्यु का कारण बनता है,इसलिए स्वस्थ जीवन शैली का पालन करना बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने आगे कहा कि स्वस्थ भोजन करने, योग और व्यायाम करने सहित स्वस्थ जीवन जीने के लिए आपके शरीर को हाइड्रेट रखना भी सबसे महत्वपूर्ण व्यवहार है।

डॉ (कर्नल) अजय बहादुर, डीएम (इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजी), और अपोलोमेडिक्स अस्पताल के वरिष्ठ सलाहकार ने हृदय रोग की रोकथाम के बारे में बताया और कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन हृदय रोग से बचने के लिए कम नमक के इस्तेमाल पर जोर देता है नियमित रूप से रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल जांच, बॉडी मॉस इंडेक्स का समय-समय पर मूल्यांकन, अस्वास्थ्यकर भोजन से परहेज, ताजे फल और सब्जियां खाने, रोजाना व्यायाम करने जैसे कुछ सुझाव हैं जो उन्होंने हृदय रोगों की रोकथाम के लिए दिए। उन्होंने स्वस्थ भोजन की आदतों पर जोर दिया और बताया कि संतरे और नींबू जैसे खट्टे फलों में विटामिन-सी की अच्छी मात्रा होती है और यह हृदय रोग के जोखिम को कम करता है।

फलों के रस में अलग से शक्कर का प्रयोग नही करना चाहिए। फाइबर से भरपूर सब्जियां जैसे बीन्स, भिंडी और बैगन शरीर से कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करती हैं। इसके अलावा ओट्स, मछली और नट्स जैसे खाद्य पदार्थ भी हृदय के स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होते हैं। उन्होंने कहा स्वस्थ भोजन करें, रोजाना व्यायाम करें और नियमित स्वास्थ्य जांच करवाएं, स्वस्थ हृदय और लंबी उम्र के लिए इन नियमों का पालन आवश्यक है।

अपोलोमेडिक्स अस्पताल के फिजियो योगेश मन्ध्यान, डीपीटी, बीपीटी, सीओएमटी (एचओडी – फिजियोथेरेपी एंड रिहैबिलिटेशन) ने कहा कि दिल को स्वस्थ रखने के लिए व्यायाम करना बहुत जरूरी है। उन्होंने एरोबिक्स एक्सरसाइज को अपनाने पर बल दिया और कहा सप्ताह में कम से कम दो घंटे तेज चलने, जॉगिंग या दौड़ना चाहिए, इससे हृदय औए पूरा शरीर स्वस्थ रहता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper