अब देवरिया के विधायक सुरेश तिवारी ने लगाया सीएम योगी पर आरोप

दिल्ली ब्यूरो: अभी तक सूबे के सांसद ही मुख्यमंत्री योगी पर आरोप लगा रहे थे और पीएम मोदी से गुहार लगा रहे थे लेकिन योगी से देवरिया के विधायक सुरेश तोवारी भी परेशान हो गए हैं। उन्होंने कहा है कि प्रदेश सरकार उनकी बातें नहीं सुन रही है। जब कभी भ्रष्ट अधिकारियों की शिकायत करते हैं, या उनके ट्रांसफर की अपील करते हैं तो दो टूक जवाब मिलता है- राजनीति छोड़ दो। बरहज विधानसभा से बीजेपी विधायक सुरेश तिवारी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में विधायकों का कुछ नहीं चलता है।

कलेक्टर को बार-बार फोन करते हैं, लेकिन वो फोन नहीं उठाते हैं। इस बात की जानकारी पार्टी के जिलाध्यक्ष समेत अन्य पार्टी पदाधिकारियों को है। अगर किसी प्रशासनिक अधिकारी की शिकायत आगे करते हैं तो वहां भी हमारी बात नहीं सुनी जाती है। तिवारी ने कहा दो दिन पहले प्रदेश के 35 आईएएस अधिकारियों का ट्रांसफर किया गया है, लेकिन देवरिया के कलेक्टर और सीडीओ का ट्रांसफर नहीं किया गया है।

मैंने इस बाबत सीएम योगी आदित्यनाथ को कई बार चिट्ठी लिखी है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। विधायक सुरेश तिवारी ने देवरिया के तमाम प्रशासनिक अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप भी लगाए। उन्होंने कहा कि जब मैंने मुख्यमंत्री से मिलकर इसकी शिकायत की तो उन्होंने कहा कि राजनीति छोड़ दो। मैंने भी उनसे कहा, ‘आप मेरा रिजाइन ले लो। ‘

विधायक सुरेश तिवारी यही नहीं रुके। उन्होंने अपने ही सरकार के राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद (देवरिया के रुद्रपुर से विधायक) पर गंभीर आरोप लगाए। तिवारी ने कहा कि जय प्रकाश निषाद के गुर्गे पूरे क्षेत्र में अवैध तरीके से शराब का कारोबार करते हैं। पिछले दिनों रुद्रपुर में मंत्री के गांव लक्ष्मीपुर के बीएसएनएल भवन से 52 लाख की अवैध शराब पकड़ी गई थी। अवैध शराब पकड़ने वाले दरोगा को मंत्री के दबाव में लाइन हाजिर कर दिया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि शराब के अवैध कारोबार में मंत्री के बेटे और उनके गुर्गे शामिल हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper