अब बीजेपी को लगा बड़ा झटका, मानवेन्द्र सिंह हुए कांग्रेस में शामिल

दिल्ली ब्यूरो: पिछले दिनों बीजेपी ने कोंग्रेसी नेताओं को अपने पाले में लाकर कांग्रेस को झटका दिया था तो अब कांग्रेस ने बीजेपी को बड़ा झटका दिया है बीजेपी के कद्दावर नेता रहे यशवंत सिंह के बेटे मानवेन्द्र को अपने पाले में लाकर। बीजेपी के लिए यह बड़ा झटका है। राजस्थान में चुनाव होने हैं और वहाँ बीजेपी को कांग्रेस कडा मुकाबला दे रही है ,ऐसे में मानवेन्द्र का कांग्रेस में आना बीजेपी के लिए घातक माना जा रहा है। मानवेन्द्र को आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने पार्टी में शामिल किया। मानवेन्द्र बेहद खुश थे।

बता दें कि राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए जारी कैंपेन के बीच मानवेंद्र ने कांग्रेस का हाथ थामा है। मानवेंद्र सिंह ने हाल ही में बाड़मेर के पचपदरा में स्वाभिमान रैली की थी। वहां उन्होंने ‘कमल का फूल, बड़ी भूल’ कहते हुए बीजेपी से अपना रास्ता अलग कर लिया था। दरअसल, मानवेंद्र की बीजेपी के प्रादेशिक नेतृत्व और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से लंबे समय से खटपट चल रही थी। राज्य के बाड़मेर व जैसलमेर के साथ-साथ आसपास के राजपूत समुदाय में मानवेंद्र और उनके जसोल परिवार की अच्छी पकड़ मानी जाती है।

बीजेपी से संबंध मानवेंद्र के 2014 के लोकसभा चुनाव में ही खराब हो गए थे, जब पार्टी ने उनके पिता और पूर्व रक्षा मंत्री जसवंत सिंह को टिकट देने से इनकार कर दिया था। इसके बाद जसवंत सिंह निर्दलीय चुनाव लड़े और बीजेपी के उम्मीदवार से हार गए थे। विधानसभा चुनाव से ठीक पहले मानवेंद्र सिंह के कांग्रेस में शामिल होने को एक बड़े राजनीतिक घटनाक्रम के रूप में देखा जा रहा है। हालांकि, बीजेपी का कहना है कि मानवेंद्र के इस कदम का पश्चिमी राजस्थान में पार्टी की संभावनाओं पर कोई असर नहीं होगा। बाड़मेर के शिव विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी उम्मीदवार मानवेन्द्र सिंह ने 2013 के विधानसभा चुनाव में 31 हजार 425 मतों के अंतर से जीत हासिल की थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper