अब KGMU ने माना कोरोना वायरस के इलाज में कारगर है यह दवा

लखनऊ: अगर आप रोजाना हल्दी, नीम और तुलसी का सेवन करते हैं, तो इससे न सिर्फ बीमारियों से लड़ने के लिए आपकी क्षमता बढ़ेगी बल्कि इससे काफी हद तक आपको कोरोना वायरस की चपेट में आने से बचने में मदद मिलेगी.

केजीएमयू में सेंटर फॉर एडवांस रिसर्च (सीएफएआर) के प्रमुख प्रो शैलेन्द्र सक्सेना और उनकी टीम ने प्राकृतिक हर्बल आयुर्वेद उत्पादों पर रिसर्च में किया है. इस रिसर्च में यह पाया गया है कि नीम, हल्दी और तुलसी कोरोना से लड़ने में काफी कारगर हैं. वायरल रोगों से जुड़ी स्प्रिंगर नेचर जर्नल में इस बारे में शोध प्रकाशित हो चुका है. SARS-Cov-2 वायरस से कोरोना वायरस होता है.

सक्सेना ने कहा कि हमारे शोध में, हमने हर्बल उत्पादों और वायरस के बीच सीधे संबंधों का अध्ययन किया. इसके लिए वायरल या होस्ट प्रोटीन का उपयोग किया गया. परिणामों ने साबित कर दिया कि आयुर्वेद से जुड़े उत्पाद मसलन हल्दी, नीम, अश्वगंधा और काली मिर्च कोरोना से लड़ाई में कारगर हैं.

इस रिसर्च में कहा गया है कि ये प्राकृतिक उत्पाद / औषधियां आयुर्वेद से कोविड -19 के दौरान चिकित्सीय एजेंट के रूप में उपयोगी हो सकती हैं. एलोपैथिक दवाओं के रोगियों के साथ काम करने के लिए उन्हें एकीकृत दवा के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि हेल्थकेयर कार्यकर्ताओं को वायरस की चपेट में आने से बचाने के लिए विशेष खुराक दी जा सकती है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper