‘अभिजीत मुहूर्त’ पीएम मोदी ने भरा नामांकन, एनडीए ने दिखाई अपनी ताकत

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए वाराणसी लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। उनके इस नामांकन दाखिल करते समय एनडीए की एकता भी नजर आई साथ ही ताकत भी। प्रधानमंत्री होने की वजह से मोदी के नामांकन की प्रक्रिया में आम उम्मीदवारों के मुकाबले थोड़ा ज्यादा वक्त लगा। इस दौरान प्रधानमंत्री ने एक शपथ पत्र भी पढ़ा। इससे पहले उन्होंने डीएम दफ्तर में ही पहले से मोजूद एनडीए गठबंधन दलों के नेताओं से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल के पैर भी छुए। उन्‍होंने एक महिला प्रस्‍तावक के भी पैर छुए। पीएम मोदी ने नामांकन के पहले और बाद में कलेक्‍ट्रेट परिसर में मौजूद एनडीए के दिग्‍गज नेताओं से मुलाकात की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पर्चा दाखिले के लिए दिन-तारीख और योग तय करने के बाद वाराणसी के पंडितों ने शुभ मुहूर्त भी निकाला था। प्रधानमंत्री 26 अप्रैल को कार्य सिद्धि के लिए सबसे प्रभावी व शुभ ‘अभिजीत मुहूर्त’ में नामांकन पत्र जमा किया। इससे पहले पीएम मोदी ने काशी के कोतवाल बाबा कालभैरव के दर्शन करने के बाद सीधे कलेक्ट्रट सभागार स्थित रायसेन क्लब में मौजूद रहे। साध्‍य योग के साथ भद्रा काल न होना और सभी ग्रह-नक्षत्र अनुकूल होने से नामांकन का दिन व समय बेहद शुभकारी है। नरेंद्र मोदी वाराणसी से दूसरी बार चुनाव लड़ने जा रहे हैं। वर्ष 2014 के चुनाव में तो उन्‍होंने नामांकन के दिन व समय को लेकर वाराणसी के ज्‍योतिषियों की सलाह नहीं मानी थी, लेकिन इस बार ऐसा नहीं है। बनारसी पंडितों पर भरोसा कर उन्‍होंने 26 अप्रैल का दिन तय किया तो अब उनके बताए अभिजीत मुहूर्त में ही कलेक्‍ट्रेट के रायफल क्‍लब स्थित नामांकन स्‍थल पर पहुंचे।

मस्जिद के चलते नहीं बन पा रहा था हाईवे, बिना तोड़े ऐसे की गई शिफ्ट

नामांकन दाखिल करते समय एनडीएन नेताओं में बिहार के सीएम नीतीश कुमार, लोक जनशक्ति पार्टी के सुप्रीमो रामविलास पासवान, शिवसेना अध्‍यक्ष उद्धव ठाकरे और अकाली दल के मुखिया प्रकाश सिंह बादल यहां मौजूद थे। वहीं पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, असम सीएम सर्वानंद सोनेवाल, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री सीता रमण, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, पीयूष गोयल, हेमा मालिनी, जयाप्रदा, मनोज तिवारी, रवि किशन, दिनेश लाल यादव निरहुआ भी मौजूद रहे।

प्रधानमंत्री ने नामांकन दाखिल करने से पूर्व कालभैरव मंदिर में पूजा अर्चना की। उन्होंने अपने दिन की शुरुआत सुबह बूथ प्रमुखों और कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के साथ की। अपने संबोधन में मोदी ने गुरुवार के रोड शो में मिले प्यार को देखते हुए कहा कि इस चुनाव के दो पहलू हैं- एक है काशी लोक सभा जीतना। मेरे हिसाब से ये काम कल पूरा हो गया है। एक काम अभी बाकी है वो है पोलिंग बूथ जीतना और एक भी पोलिंग बूथ भाजपा का झंडा झुकने नहीं देना। लेकिन आपका उम्मीदवार इतना भाग्यवान है कि वो कहीं भी रहे यहां का कार्यकर्ता अपने भीतर खुद को उम्मीदवार मानता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper