अभी भी चार करोड़ से ज्यादा लोग गुलाम

नई दिल्ली: ग्लोबल स्लेवरी इंडेक्स 2016 के मुताबिक, दुनिया के 167 देशों में साढ़े चार करोड़ से ज़्यादा लोग गुलामी की जिंदगी जी रहे हैं और इनमें से तकरीबन दो करोड़ गुलाम भारत में ही हैं. इन चौंकाने वाले आंकड़ों के मुताबिक, दुनिया में हर 4 गुलामों में से एक बच्चा है. पश्चिमी अफ्रीका में आज भी गुलामी की समस्या लगातार बढ़ रही है. सेक्स ट्रैफिकिंग और जबरिया शादी से लेकर बंधुआ मज़दूरी गुलामी में शामिल है.

वॉशिंग्टन पोस्ट के मुताबिक, अगर कैदियों के श्रम को न गिना जाए तो अमेरिका में 60 हज़ार गुलाम हैं. दुनिया में सबसे ज़्यादा गुलाम भारत में है. आंकड़ों के मुताबिक भारत की 1.4 फीसदी आबादी लगभग 1 करोड़ 83 लाख से ज़्यादा लोग आधुनिक गुलामो की तरह जीवन बिताने को मजबूर हैं.

बंधुआ मज़दूरी, बाल श्रम, जबरिया शादी, जिस्मफरोशी और अन्य रूपों में गुलामी की परंपरा जारी है. ‘फ्री द स्लेव्स’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक आर्थिक रूप से बेहद कमजोर परिवार कर्ज़ के चलते अवैधानिक रूप से गुलामी के शिकार हैं. भारत के पड़ोसी बांग्लादेश और पाकिस्तान में भी यह समस्या लगातार बढ़ रही है. वहीं, श्रम मंत्रालय का दावा है कि 2030 तक 1 करोड़ 80 लाख बंधक मज़दूरों का छुड़ा लिया जाएगा.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper