अमेरिका में गूंजा पाकिस्तान चप्पल चोर का नारा

वाशिंगटन: पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय पूर्व सेना अधिकारी कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ किये गए दुर्व्यवहार को लेकर लोगों का गुस्‍सा शांत नहीं हुआ है। इसको लेकर पाकिस्‍तान दुनियाभर में आलोचनाएं झेल रहा है। आज अमेरिका में पाकिस्‍तान दूतावास के बाहर विरोध-प्रदर्शन किया गया। भारतीय-अमेरिकियों और बलूचिस्‍तानियों के एक समूह ने पाकिस्‍तान के खिलाफ जमकर नारे लगाए और उसे ‘चप्‍पल चोर’ करार दिया।

एक प्रदर्शनकारी ने तंज कसते हुए कहा, ‘कुलभूषण जाधव की पत्नी की चप्पलें चुरा ली है तो उनका पाकिस्तान इस्तेमाल भी करेगा। मैं ये कहना चाहता हूं कि पाकिस्तान का मतलब क्या है? अमेरिका से डॉलर ला और भारत के जूते खा!’ एक प्रदर्शनकारी ने इसे पाकिस्‍तान की संकीर्ण सोच करार दिया। प्रदर्शनकारी ने कहा कि जिस तरह से पाकिस्‍तान ने कुलभूषण जाधव की मां और पत्‍नी के साथ व्‍यवहार किया, वो उसकी छोटी मानसिकता को दर्शाता है। इसे लोगों को समझने की जरूरत है।

जाधव परिवार के समर्थन में प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्‍तान को खूब लताड़ा। विरोध-प्रदर्शन के साथ पाकिस्‍तान दूतावास को इस्‍तेमाल किए हुए जूते भी दान किए। प्रदर्शनकारी अपने साथ कई जूते-चप्‍पल लेकर आए थे। हाल ही में पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारी जाधव से मिलने उनकी मां और पत्‍नी पाकिस्‍तान गई थीं, मगर वहां उनके साथ अधिकारियों ने दुर्व्‍यवहार किया।

मुलाकात से ठीक पहले उनके कपड़े बदलवा दिए। वहीं बिंदी, मंगलसूत्र तक हटवा दिए। यहां तक पत्‍नी के जूते तक वापस नहीं किए। उन्‍हें शक था कि जाधव की पत्‍नी के जूते में कुछ है। इस दुर्व्‍यवहार को लेकर भारत ने कड़ी निंदा जताई। वहीं मुलाकात हुई भी तो उनके बीच में शीशे की एक दीवार खड़ी कर दी गई। एक इंटरकॉम के जरिए बातचीत हुई। हालांकि पाकिस्‍तान ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इंकार किया है। वहीं हाल ही में अपने बचाव में एक प्रोपेगंडा वीडियाे भी जारी किया था, जिसमें कुलभूषण जाधव से अपने पक्ष में कई झूठी बातें कहलवाई थीं। जैसे कि जाधव उस वीडियो में यह कहते नजर आए कि पाक अधिकारियों ने उनके साथ कोई दुर्व्‍यवहार नहीं किया है। बल्कि वह मां और पत्‍नी से मिलवाने के लिए पाकिस्‍तान का शुक्रिया अदा करते हैं।

इतना ही नहीं, जाधव वीडियो में उल्‍टे भारत पर आरोप लगाते भी दिखे। उन्‍होंने कहा कि जब उनकी मां और पत्‍नी उनसे मिलने आईं तो उनकी आंखों में भय था। पता नहीं भारतीय अधिकारी उनके साथ कैसे पेश आ रहे हैं। यह भी कहा कि उनकी मां उनसे मिलकर बहुत खुश हुईं। यह बात भी कही कि वह अब भी भारत के एजेंट हैं। पता नहीं क्‍योंकि भारतीय अधिकारी इससे इंकार कर रहे हैं।

आपको बता दें कि जाधव पर पाकिस्‍तान ने जासूसी का आरोप लगाते हुए मौत की सजा सुनाई है। हालांकि अभी यह मामला अंतरराष्‍ट्रीय न्‍यायालय में है और फिलहाल इस सजा पर रोक लगा दी गई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper