अमौसी एयरपोर्ट के निर्माण स्थलों पर जल्द लगेंगे सीसीटीवी कैमरे

लखनऊ ब्यूरो। राजधानी लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट के निर्माण स्थलों पर जल्द ही सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। निमार्ण स्थलों पर कुछ स्थानीय लोग और संगठन बार-बार रुकावट डाल रहे हैं। एयरपोर्ट के विशेष कार्याधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि जिलाधिकारी (डीएम) ने तय कर दिया है कि जिन स्थानों पर निर्माण हो रहे हैं वहां सीसीटीवी कैमरे जल्द लगाए जाएंगे। साथ ही निर्माण एजेंसियों के लिए सुरक्षा बल तैनात तैनात किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट पर रनवे विस्तार, नया टर्मिनल बनाने समेत कई कार्य हो रहे हैं। इसमें कुछ लोग और संगठन बार-बार रुकावट डाल रहे हैं। इसलिए जिलाधिकारी ने इस समस्या का समाधान करने के लिए नागरिक उड्डयन के विशेष सचिव सूर्यपाल संगमवार, एयरपोर्ट निदेशक एके शर्मा, एडीएम एलए राम अरज, एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार समेत कई अन्य अधिकारियों के साथ बैठक की।

इस दौरान निर्माण कार्य के संबंध में हाईकोर्ट में दायर रिट याचिका पर चर्चा हुई। इसके अलावा जिन स्थानों पर निर्माण हो रहा है उनके बीच पड़ने वाली सेना की जमीन के लिए मंत्रालय से अनापत्ति प्रमाण पत्र हासिल करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट के इंजीनियर व कर्मचारी बॉडी वॉर्न कैमरा लगाकर निर्माण स्थलों पर जाएंगे। यह कैमरा कपड़ों में लगाया जाएगा। इससे इन अधिकारियों से अभद्रता करने वाले चिह्नित होंगे। इसके अलावा डीएम ने निर्माण सामग्री ले जाने के लिए वैकल्पिक रास्ते का इस्तेमाल करने का भी निर्देश दिया है।

गौरतलब है कि अमौसी एयरपोर्ट पर हो रहे निर्माण कार्य का आसपास के ग्रामीण विरोध कर रहे हैं। ऐसे में जिलाधिकारी ने निर्माण एजेंसियों से कहा कि ग्रामीणों को रोजगार दें ताकि उनमें विश्वास पैदा हो।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper