अम‍िताभ के नीले हाथी पर लगी दस लाख की बोली

मुंबई: सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का नीला हाथी दस लाख में बिक गया है। बीते शनिवार की रात एलिफेंट परेड की नीलामी में दस लाख रुपए की बोली लगाई गई, जो एक माह तक चली प्रदर्शनी का अंतिम पड़ाव था। हाथियों की रंगबिरंगी मूर्तियों की यह प्रदर्शनी गेटवे ऑफ इंडिया से शुरू होकर प्रियदर्शिनी पार्क, वर्ली सी फेस, बांद्रा फोर्ट जैसे इलाकों में आयोजित की गई।

इस प्रदर्शनी में बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया। हाथी के ल‍िए बच्‍चों का प्‍यार देखते ही बन रहा था। बच्‍चे उसे प्यार से छूते, चूमते और सेल्फी लेते। पांच फीट ऊंचे इन हाथियों को विभिन्न चित्रकारों, शिल्पकारों, लोक कलाकारों, फैशन डिजाइनरों तथा फिल्मी सितारों ने अपनी पसंद और कल्पना के मुताबिक लाल, गुलाबी, हरे, पीले रंगों से सजाया।

विलुप्त होते हाथियों के संरक्षण के लिए गठित एलिफेंट फैमिली के अधिकारियों ने अमिताभ बच्चन से आग्रह किया था कि 101 हाथियों की इस प्रदर्शनी में एक हाथी उनके नाम का भी हो और चित्रकार इस हाथी के शरीर की पेंटिंग उनकी पसंद के हिसाब से करे। बिग बी ने अपने हाथी के लिए नीला रंग चुना, इसे फूल-पत्तियों से सजवाया और चित्रकार को यह खास निर्देश दिया कि इसके शरीर पर हरिवंश राय बच्चन की वह कविता अंकित की जाए, जो उन्होंने बच्चों के लिए लिखी थी।

कविता की पक्तियां हैं, ‘आज उठा मैं सबसे पहले, सबसे कहता आज फिरूंगा, कैसे पहला पत्ता डोला, कैसे पहला पंछी बोला, कैसे पूरब ने फैलाए बादल पीले, लाल, सुनहले, आज उठा मैं सबसे पहले।’ गौरतलब है कि हाथियों के संरक्षण के प्रति जागरूकता लाने के लिए हेमा मालिनी के चुनाव क्षेत्र मथुरा में भारत के प्रथम एलिफेंट कंजर्वेशन एंड केयर सेंटर की स्थापना के लिए तीन साल पहले जब मुंबई में मुहिम छेड़ी गई थी, तब भी अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, आमिर खान, सलमान खान और अक्षय कुमार जैसे बॉलिवुड सितारों ने इसे भरपूर समर्थन दिया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper