अयोध्या में हिंदू-मुस्लिम मिल कर करेंगे राम मंदिर का निर्माण : गिरिराज

जोधपुर: केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बालीवुड निर्माता संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती पर टिप्पणी करते हुए कहा फिल्म में तथ्यों के साथ छेड़छाड़ करते हुए पूरे कथानक को इतिहास से काट कर दिखाया गया है। इसे किसी तरह स्वीकार नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदर का निर्माण हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लोग मिल कर करेंगे। गिरिराज ने कहा पद्मावती जैसे किरदारों को संदर्भ से काट कर पेश करने को किसी तरह स्वीकार नहीं किया जा सकता।

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम राज्य मंत्री गिरिराज ने कहा कि फिल्म में पद्मावती के किरदार के किरदार को जिस तरह दिखाया गया है वह उनकी वीरता एवं त्याग से मेल नहीं खाता। पाली जाते समय यहां पहुंचे गिरिराज ने कहा महात्मा गांधी, शिवाजी, महाराणा प्रताप, रानी लक्ष्मीबाई और पद्मावती हमारे आदर्श हैं। फिल्म निर्माताओं को समाज के लिए किए गए उनके योगदान को वास्तविक रूप में दिखाना चाहिए, ताकि समाज उनसे प्रेरणा ले सके।

यह भी पढ़िए: केंद्र सरकार ने दिया बड़ा झटका, लालू-मांझी की छिनी जेड प्लस सुरक्षा

फिल्म में रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के पात्रों के बीच रोमांस के दृश्यों की अफवाहों के बीच कई राजपूत संगठन व अन्य इस फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका आरोप है कि यह फिल्म इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश कर रही है। केंद्रीय मंत्री ने सवाल किया कि क्या हिंदू धर्म को छोडकर किसी और धर्म या समुदाय पर फिल्म बनाना और उन धर्मों को संदर्भ से हटा कर पेश करना संभव है? उन्होंने कहा चूंकि हिंदू धर्म उदार है, इसलिए कोई इस पर फिल्म बना देता है। कुछ लोग तो और आगे बढ़ कर हिंदू देवताओं पर फिल्में बनाने लगे हैं।

इसे किसी तरह स्वीकार नहीं किया जा सकता। उन्होंनें कहा अयोध्या में हिंदू और मुस्लिम मिलकर राम मंदिर बनाएंगे, क्योंकि मुस्लिम बाबर के वंशज नहीं हैं। मुसलमानों और हिंदुओं के पूर्वज भगवान राम ही हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा अयोध्या में मंदिर की वकालत करके शिया मुस्लिमों ने पहले ही आदर्श पेश किया है। उन्होने कहा कि जल्द ही सुन्नी मुस्लिम भी इसका समर्थन करेंगे। मेरी इच्छा है कि इस मंदिर की एक ईंट हिंदू रखे और एक ईंट मुस्लिम रखे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper