अय्याश बाबा के आश्रम पर चला नगर निगम का हथौड़ा

नई दिल्ली: उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) ने विवादित बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के आध्यत्मिक विश्वविद्यालय पर अन्य विभागों के बाद शिकंजा कसना आरंभ कर दिया है। नगर निगम ने रोहिणी इलाके के विजय विहार में उनके आश्रम पर हथौड़ा चलाया। दरअसल विश्वविद्यालय की इमारत में बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण किया था। उत्तरी दिल्ली नगर निगम की टीम दल बल के साथ विश्वविद्यालय की इमारत पर तोड़ने पहुंची।

इस दौरान पुलिस ने विश्वविद्यालय में मौजूद लोगों से बाहर निकलने का आग्रह किया, लेकिन काफी देर तक कोई बाहर नहीं निकला। इसके चलते पुलिस ने अंदर घुसकर लोगों को बाहर निकाल दिया। इसके बाद नगर निगम ने विश्वविद्यालय की चौथी मंजिल से तोड़फोड़ की कार्रवाई शुरू की और देर शाम तक कार्रवाई चली। विश्वविद्यालय में अवैध तौर पर बेसमेंट पार्किंग भी बनी है। आध्यात्मिक विश्वविद्यालय चलाने वाले बाबा जो लड़कियों को बंधक बनाकर रखने के आरोपी भी हैं, बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के विजय विहार स्थित आश्रम को तोड़ दिया है।

गौरतलब है कि एमसीडी ने मंगलवार को बताया कि वीरेंद्र देव ने नियमों को ताक पर रखकर यह आश्रम बनवाया था जिसे गिरा दिया है। दिसंबर 2017 में बाबा के आश्रम से कई लड़कियों को छुड़वाया गया था। बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित खुद को भगवान कृष्ण मानता था जिसकी 16000 रानियां हैं। वह अपने आश्रम में लड़कियों को कैद कर रखता था और उनका शारीरिक शोषण करता था। बता दें कि जब आश्रम पर छापा पड़ा तो वहां से अश्लील साहित्य से साथ ढेरों अश्लील खत और दवाइयां बरामद हुईं है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper