आईएस ने ली काबुल हमले की जिम्मेदारी

काबुल: आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के सैन्य शिविर पर सोमवार को हुए आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी ली है। इस हमले में नौ लोगों की मौत हो गई और 10 अन्य घायल हो गए। आईएस से जुड़ी अमाक न्यूज एजेंसी की ओर से जारी बयान के अनुसार, “आईएस के आतंकवादियों ने अफगानिस्तान सुरक्षा बलों के साथ गोलीबारी करने के बाद खुद को उड़ा लिया।” अमाक ने इस हमले को ‘इनघीमासी’ हमला बताया।

एफे न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, “इनघीमासी वे आतंकवादी होते हैं जिन्हें अपने लक्ष्य के साथ सामने से लड़ने के लिए भेजा जाता है और उसके बाद वह खुद को उड़ा लेते हैं।” इससे पहले सोमवार को, अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता दवलात वजीरी ने बताया कि पश्चिमी काबुल में मार्शल फहीम मिलिट्री एकेडमी के नजदीक सैन्य दस्ते पर सुबह करीब पांच बजे हमला किया गया।

वजीरी ने कहा कि दो आतंकवादियों ने खुद को उड़ा लिया, अन्य दो आतंकवादी सुरक्षा बलों के साथ गोलीबारी में मारे गए और एक को जिंदा पकड़ लिया गया। वजीरी ने बताया कि हमले के दौरान पांच सैनिक मारे गए और 10 घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए सैन्य अस्पताल भेजा गया है। सोमवार को यह आत्मघाती हमला शनिवार को हुए एंब़ुलेंस बम हमले के बाद हुआ है, जिसमें 103 लोग मारे गए थे और 200 से ज्यादा घायल हो गए थे।

इससे पहले यहां इंटरकांटिनेंटल होटल में हमला किया गया था जिसमें 20 लोग मारे गए थे। इन मृतकों में 14 विदेशी नागरिक शामिल थे। अफगानिस्तान में उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के सैन्य अभियान की समाप्ति की घोषणा के बाद यहां काफी आतंकवादी हमले हुए हैं, हालांकि अफगान सैनिकों को प्रशिक्षण देने के लिए नाटो सेना अभी भी यहां बनी हुई है। सितंबर 2017 में, अमेरिका और नाटो दोनों ने अफगानिस्तान में अपनी सैन्य उपस्थिति बढ़ाने का निर्णय लिया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper