आखिरकार माने ओमप्रकाश राजभर

लखनऊ। अमित शाह से वार्ता के बाद सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर मान गये हैं। ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि अब वह और उनके विधायक बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करेंगे। सुभासपा की नाराजगी खत्म हो गई है।

सीएम योगी आदित्यनाथ की कार्यप्रणाली को लेकर ओमप्रकाश राजभर को नाराजगी थी। नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना से लेकर बीजेपी के कई मंत्रियों ने ओमप्रकाश राजभर को मनाने का प्रयास किया था, लेकिन वह अमित शाह से वार्ता करने की बात पर डटे हुए थे। इसके बाद अमित शाह ने ओमप्रकाश राजभर को वार्ता के लिए दिल्ली बुलाया। घंटों चली वार्ता के बाद यूपी के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर मान गये हैं।

अमित शाह ने कहा कि 10 अप्रैल को वह लखनऊ आयेंगे और अपने सामने ही सीएम योगी व ओमप्रकाश राजभर से वार्ता करायेंगे। इसके बाद ओमप्रकाश राजभर का गुस्सा ठंडा हो गया है। सूत्रों की मानें तो वार्ता के दौरान सुभासपा के एक और विधायक को मंत्री पद देना व लोकसभा चुनाव 2019 में गठबंधन के तहत सुभासपा को न्यूनतम एक सीट देने पर भी सहमति बनी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper