आखिर क्यों सिर्फ एक रात के लिए शादी करते है किन्नर और अगले ही दिन हो जाते है विधवा, जानिए

मुंबई: भगवान ने दुनिया में स्त्री पुरुष के अलावा एक जाति और बनाई है और वो है किन्नर, आपने इन लोगो को कई समारोह जैसे शादी ब्याह या किसी के जन्मदिन पर देखा होगा, इन लोगो को आपने बच्चो के जन्म पर खासकर देखा होगा, वैसे कई लोग ऐसे है जो इनसे दूर रहने में ही अपनी भलाई समझते है, लेकिन यह बात भी सत्य है की किन्नरों को धार्मिक ग्रंथो में बहुत ही सम्मानित स्थान दिया गया है, महाभारत काल में भी बताया गया है की अर्जुन को भी किसी कारणवश किन्नर का रूप धारण कर के रहना पड़ा था, लोगो का मानना है की किन्नर कभी शादी नहीं करते है लेकिन ऐसा है नहीं है किन्नर शादी करते है लेकिन उनकी शादी आम लोगो की तरह नहीं होती है, उनकी शादी सिर्फ एक दिन की होती है और अगले दिन वे विधवा हो जाते है |किन्नर एक रात के लिए विवाह करते है लेकिन वे किसी इंसान से नहीं बल्कि वे उनके भगवान से शादी करते है और उनके भगवान अर्जुन और नाग कन्या उलूपी की संतान इरावन है, इरावन को अरावन के नाम से भी जाना जाता है, इनकी विशेष शादी के दिन पुजारी ही इनको मंगलसूत्र पहनाते है |

किन्नरों का ये विवाह उत्सव तमिलनाडु में तमिल नववर्ष की पहली पूर्णमासी को आरम्भ होता है और उसके बाद ये पुरे 18 दिनों तक चलता है, 17 दिनों तक ये आपने भगवान इरावन के साथ विवाह रचते है और फिर 18 वे दिन इरावन की प्रतिमा को पुरे शहर में घुमाया जाता है और फिर बाद में तोड़ दिया जाता है इसके बाद ये किन्नर भी अपना पूरा शृंगार उतार कर विधवा की भांति विलाप करते है | इसके पीछे भी एक कथा है। दरअसल महाभारत का युद्ध आरम्भ करने से पहले पांडवो ने माँ काली की एक पूजा रखी थी जिसमे एक राजकुमार की बलि दी जानी थी, लेकिन इस बलि के लिए कोई भी राजकुमार तैयार नहीं था पर अर्जुन पुत्र इरावन इसके लिए राजी हो गया पर बलि की एक शर्त यह थी की राजकुमार का विवाहित होना बहुत आवश्यक है, और इरावन अविवाहित था |

अब ऐसी स्थिति में ऐसे राजकुमार से कौंन शादी करता जिसे अगले दिन मरना ही है, इस समस्या का हल निकलने के लिए भगवान कृष्ण ने मोहिनी रूप धारण कर लिया और इरावन से शादी कर ली और जब अगले दिन इरावन की बलि दी गयी तो भगवान कृष्ण ने विधवा की भांति विलाप किया | इस घटना को याद करते हुए किन्नर एक दिन के लिए विवाह करते है और अगले दिन विधवा बनकर विलाप करते है |

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper