आजम के खिलाफ फिर सक्रिय हुई एसआईटी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के नजदीकी माने जाने वाले समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान के विरूद्ध एसआईटी फिर से सक्रिय है। आजम पर जल निगम की भर्ती के दौरान घोटाले का आरोप है।

एसआईटी ने शासन को एक पत्र भेजकर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की अनुमति मांगी है। एसआईटी की ओर से मांगी गयी अनुमति में आजम के साथ ही उस समय के जल निगम के प्रबन्ध निदेशक पीके आसुदानी को भी घोटाले में शामिल होने के कारण शामिल करने की संस्तुति की मांग की गयी है।

एसआईटी के अधिकारी आलोक कुमार की रिर्पोट के अनुसार शासन को भेजी गयी रिर्पोट में स्पष्ट किया गया है कि समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान के खिलाफ हुई जांच में उनके विरूद्ध सबूत मिले हैं। आजम खान के खिलाफ अभियोग चलाया जा सकता है।

रिर्पोट में स्पष्ट कर दिया गया है कि आजम खान बतौर मंत्री रहते हुए जल निगम की भर्ती के दौरान हुए घोटाले में शामिल पाये जा रहे है। वर्ष 2016 में जल निगम में ये भर्ती हुई थी। इसमें 122 सहायक अभियंता, 853 अवर अभियंता, 335 नैतिक लिपिक व 32 आशुलिपिक समेत तेरह सौ पदों पर आजम खान ने किसी न किसी प्रकार से हस्तक्षेप किया है। इस भर्ती के बाद घोटाला होने और आजम के चहेतो में नौकरी में आने की बात उठी थी। इसमें तात्कालीन प्रबन्ध निदेशक पीके आसुदानी का भी नाम सामने आया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper