आज संसद के बाहर प्रदर्शन, संसद से सड़क तक किसानों का महासंग्राम

नई दिल्ली: किसानों से जुड़े तीन अध्यादेशों को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है. भारतीय किसान यूनियन से बड़ी संख्या में जुड़े किसान तीनों अध्यादेश के खिलाफ बुधवार को संसद के बाहर धरना प्रदर्शन करने वाले हैं. भाकियू नेता गुरनाम सिंह का कहना है कि हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के किसान, विधेयकों के विरोध में संसद के बाहर धरना प्रदर्शन करेंगे.

इन तीन अध्यादेशों को लेकर विरोध प्रदर्शन
किसान उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अध्यादेश, आवश्यक वस्तु (संशोधन) अध्यादेश, मूल्य आश्वासन तथा कृषि सेवाओं पर किसान (सशक्तिकरण और संरक्षण) समझौता अध्यादेश, 2020 का विरोध हो रहा है. तीनों अध्यादेश आने के बाद से ही किसान लगातार इसका विरोध कर रहे हैं. सरकार जल्द ही इन बिल को पास कराने की तैयारी में है, लेकिन उसके अपने सहयोगी ही विरोध में खड़े होते दिख रहे हैं.

प्याज निर्यात पर बैन के विरोध में पवार
प्याज की कीमतों को देखते हुए केंद्र सरकार ने सोमवार को प्याज के निर्यात पर रोक लगा दी है. यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है. किसानों से जुड़े कई संगठन बैन का विरोध कर रहे हैं. पूर्व कृषि मंत्री शरद पवार ने कहा कि प्याज के निर्यात पर लगे बैन से महाराष्ट्र के किसान नाराज हैं और कई संगठनों ने उनसे संपर्क किया है. पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार ने कहा, ‘केंद्र सरकार ने अचानक प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है. इससे महाराष्ट्र में प्याज का उत्पादन करने वाले क्षेत्रों से तीखी प्रतिक्रिया आई है, इसलिए विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने मुझसे संपर्क किया और केंद्र सरकार से अपनी मांगों को बताने का अनुरोध किया.’

आज संसद के बाहर प्रदर्शन
भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह का कहना है कि हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के किसान कृषि क्षेत्र से जुड़े 3 विधेयकों के विरोध में बुधवार को संसद के बाहर धरना प्रदर्शन करेंगे. इसके अलावा पंजाब में बीजेपी की पुरानी सहयोगी शिरोमणि अकाली दल अध्यादेश पर खुश नहीं है. सूत्रों के मुताबिक, अकाली दल इस मसले पर बुधवार को विरोध में वोटिंग कर सकता है.

किसानों का प्रदर्शन जारी
पंजाब में किसानों का धरना प्रदर्शन जारी है. अलग-अलग शहरों में किसानों ने कृषि से जुडे केंद्र सरकार के विधेयक के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है और सड़कों पर डटे हैं. किसानों के विरोध प्रदर्शन की वजह से लोगों की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. अमृतसर में किसानों के धरने ने ट्रक ड्राइवरों को ऐसी परेशानी में डाला कि उन्होंने धरने के खिलाफ धरना शुरु कर दिया.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper