आटो चालक की बच्‍चों को बचाने के प्रयास में चली गई जान, वाहन पलटने से तीन जख्‍मी

प्रयागराज: सवारी बैठाकर सड़क पर आटो चली जा रही थी। अचानक सामने कुछ बच्‍चे मार्ग पर आ गए। उन्‍हें बचाने के प्रयास में चालक का आटो की स्‍टेयरिंग से नियंत्रण हट गया। और फिर आटो पलट गया। चालक की मौके पर ही मौत हो गई और आटो में बैठे तीन लोग जख्‍मी हो गए। उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। यह हादसा मंगलवार की सुबह यमुनापार के मांडा इलाके में हुई।

मीरजापुर के जिगना का रहने वाला था आटो चालक पप्‍पू : 35 वर्षीय पप्पू पाल आटो चालक था। वह मीरजापुर जनपद में जिगना थाना क्षेत्र के गोनौरा गांव का निवासी था। मंगलवार की सुबह पप्‍पू जिगना से आटो में सवारियों को भरकर प्रयागराज के लिए रवाना हुआ था। अभी वह वाहन लेकर कुखुड़ी गांव के समीप पहुंचा था कि अचानक मार्ग पर सामने बच्चे आ गए। उनको बचाने की कोशिश में पप्पू ने वाहन को दूसरी तरफ मोड़ दिया। इससे आटो उससे अनियंत्रित हो गया और सड़क पर पलट गया।

घायलों में दो मांडा के व एक जिगना के रहने वाले हैं : आटो पलटने के बाद उसमें सवार लोग चीखने-चिल्लाने लगे। आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। वाहन में सवार सभी लोगों को बाहर निकाला गया। खबर पाकर मांडा पुलिस भी आ गई और सभी को स्थानीय अस्पताल ले गई, जहां डाक्टरों ने पप्पू को मृत घोषित कर दिया। जबकि 18 वर्षीय राजकुमार निवासी फचकरा मांडा, 20 वर्षीय संजय बिंद निवासी फचकरा मांडा, 30 वर्षीय भूपेंद्र कुमार निवासी बघौरा, जिगना जनपद मीरजापुर को स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। उधर हादसे की जानकारी पप्पू के घरवालों को मिली तो वह अस्पताल पहुंचे।

आटो की चपेट में अगर बच्चे आ जाते तो हो सकता था बड़ा हादसा : कुखुड़ी गांव के समीप तीन बच्चे सड़क पार कर रहे थे। जहां घटना हुई वह हल्का मोड़ है। जैसे ही पप्पू आटो लेकर पहुंचा, वैसे ही सामने बच्चे सड़क पार कर रहे थे। लोगों का कहना है कि वाहन की रफ्तार इतनी तेज थी कि अगर चालक ब्रेक लगाता तो बच्चे तो चपेट में आते ही, आटो वहीं पलट जाता। ऐसे में उसने दूसरी तरफ वाहन को मोड़ा और फिर गति तेज होने के कारण उसका नियंत्रित वाहन से हट गया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper