आतंकियों को सबक सिखाने पहुंचे यूपी सरसावा एयर बेस से कमांडोज़

अखिलेश अखिल

जम्मू-कश्मीर के सुंजवान आर्मी कैम्प पर आतंकी हमले में 2 भारतीय जवानो के शहीद और 6 जवानो के घायल होने के बाद भारतीय सुरक्षा कर्मियों ने अब पुरे इलाके को घेर लिया है। आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन में पैरा कमांडोज भी शामिल हो गए हैं। हमले के फौरन बाद सुबह उधमपुर से भारतीय वायु सेना के पैरा कमांडोज को एयरलिफ्ट कर जम्मू पहुंचाया गयाहै । एक दूसरे एयरक्राफ्ट से यूपी के सरसावा एयर बेस से पैरा कमांडोज को भेजा जा रहा है। माना जा रहा है कि इन कोमंडोस के पहुँचते ही बड़े स्तर पर आतंकियों पर कार्रवाई की जायेगी और पाकिस्तान को करारा जबाब दिया जाएगा।

आपको बता दें कि सुंजवान में शनिवार तड़के आतंकियों ने सेना के कैंप पर हमला किया। माना जा रहा है कि हमला तीन से पांच आतंकियों ने अंजाम दिया, जो अभी भी कैंप के अंदर छिपे हुए हैं। इससे पहले एक हवलदार और उनकी बेटी समेत तीन लोगों के घायल होने की खबर आई थी। सेना ने आतंकियों को घेर लिया है। अब आखिरी ऑपरेशन की तैयारी की जा रही है। इसके साथ ही पुलिस सर्च ऑपरेशन में भी जुटी है। ड्रोन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

इससे पहले जम्मू के आईजी एसडी सिंह जमवाल ने बताया था कि सुबह करीब 4 बजकर 55 मिनट पर एक संतरी ने संदिग्ध हरकत देखी। संतरी ने फायर किया, तो उधर से भी गोली चलने लगी। उन्होंने बताया कि इस हमले में कितने आतंकी हैं, यह पता नहीं है। सिंह ने पुष्टि की थी कि हमले में एक हवलदार और उनकी बेटी घायल हुई है।

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि जम्मू में बड़ा ऑपरेशन चल रहा है। उन्होंने कहा, ‘सुंजवान ऑपरेशन पर मेरी नजर है।’ बता दें कि जम्मू के सुंजवान आर्मी कैंप पर पिछले 8 घंटे से आतंकियों और सेना के बीच गोलीबारी चल रही है। आतंकी हमले के बाद जम्मू शहर में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। गृह मंत्रालय भी हालात पर नजर रखे हुए है। हमले में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों का हाथ होने की बात कही जा रही है। इलाके की ड्रोन से भी निगरानी की जा रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper