आतंक के खिलाफ जंग में इजरायल देगा पूरा साथ

नई दिल्ली: पुलवामा अटैक के बाद भारत दुनिया भर में पाक के खिलाफ कूटनीतिक दबाव बनाने का प्रयास कर रहा है। ऐसे में इजरायल ने खुलकर भारत का साथ देने का वायदा किया है। इजरायल के नवनियुक्त राजदूत डॉ रॉन मलका ने स्पष्ट किया कि आतंक के खिलाफ संघर्ष में इजरायल भारत के खिलाफ किसी भी सीमा तक जाकर सहायता करेगा। इजरायल ने भारत को विशेष रूप से आतंकवाद के खिलाफ खुद का बचाव करने के लिए बिना शर्त और किसी भी सीमा तक जाकर मदद देने की पेशकश की है। इजरायल का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब भारत में लगातार यह मांग की जा रही है कि भारत को भी आतंक से निपटने में इजरायल का तरीका अपनाना जाहिए।

उल्लेखनीय है कि बीते गुरुवार को जम्मू कश्मीर में एक भीषण आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस आतंकवादी हमले को पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने अंजाम दिया था। इस आतंकवादी हमले के बाद यह मांग जोर पकड़ रही है कि सरकार को आतंकवाद के खिलाफ अभियान के लिए इजरायल द्वारा अपनाए जाने वाले तरीकों पर गौर करना चाहिए।

दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के हल्के झटके

मलका ने एक साक्षात्कार में कहा भारत को अपनी रक्षा के लिए जो आवश्यकता है, उसकी कोई सीमा नहीं है। हम भारत को विशेष तौर पर आतंकवाद के खिलाफ बचाव करने में मदद करने के लिए तैयार हैं, क्योंकि आतंकवाद विश्व की समस्या है, न कि सिर्फ भारत और इजराइल की। मलका ने कहा हम सिर्फ विश्व को जीने के लिए एक बेहतर जगह बनाने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

पुलवामा हमले के बाद मलका ने भी ट्वीट किया था कि इजरायल पुलवामा में आतंकी हमले की कड़ी निंदा करता है और इस मुश्किल घड़ी में अपने भारतीय दोस्तों के साथ खड़ा है। वह सीआरपीएफ जवानों के परिवारों, भारत के लोगों और भारत सरकार के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper