आलोकनाथ ने बलात्‍कार का आरोप लगाने वाली विंता नंदा को भेजा मानहानि का नोटिस

नई दिल्‍ली: डायरेकटर-प्रोड्यूसर विं‍ता नंदा द्वारा रेप के आरोपों से घिरे आलोकनाथ ने दो दिन पहले ही कहा था कि वह उनपर जल्‍द ही मानहानी का दावा लगा सकते हैं. इन आरोपों के लगने के लगभग एक हफ्ते बाद आलोकनाथ ने विंता नंदा पर मानहानी का दावा कर दिया हैं. बता दें कि आलोकनाथ पर सिर्फ विंता ही नहीं, बल्कि जानीमानी एक्‍ट्रेस संध्‍या मृदुल, दीपिका अमीन और हिमानी शिवपुरी जैसी एक्‍ट्रेसेस ने भी विंता का सपोर्ट करते हुए अपने अनुभव साझा किए हैं.

अपने ऊपर लगे आरोपों पर आलोकनाथ ने कोई सफाई नहीं दी थी, बल्कि शुरुआत में इसे विंता की कल्‍पना बताया था. एक प्राइवेट चैनल से बात करते हुए आलोकनाथ ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा था, ‘कुछ तो लोग कहेंगे..’ विंता नंदा के आरोपों को नकारते हुए आलोकनाथ ने कहा, ‘मैं न तो इन आरोपों को नकार रहा हूं और न ही इनसे सहमत हूं. यह (बलात्‍कार) हुआ तो होगा, लेकिन किसी और ने किया होगा. मैं अब इसके बारे में ज्‍यादा बात नहीं करना चाहता, क्‍योंकि अगर यह बाहर आएगा तो और भी खिंचेगा.’

लेकिन इस बयान के बाद आलोकनाथ ने अपनी कोई सफाई नहीं दी और वह अभी तक सिर्फ अपने वकील के जरिए ही बात कर रहे हैं. वहीं एक दिन पहले ही आलोकनाथ के साथ कई फिल्‍मों में काम कर चुकी बॉलीवुड अभिनेत्री हिमानी शिवपुरी ने गुरूवार को मीडिया से कहा कि आलोक का व्यवहार बॉलीवुड का एक खुला राज था. हिमानी आलोकनाथ के साथ ‘हम साथ-साथ हैं’, ‘परदेस’, ‘कभी खुशी कभी गम’ जैसी फिल्मों और ‘घर एक सपना’ जैसे टीवी शो में नजर आ चुकी हैं.

हिमानी ने कहा, ‘अभिनेता आलोकनाथ दोहरे चरित्र वाले इंसान ही हैं. इतना ही नहीं लड़कियों को शिकार बनाने का उनका व्यवहार फिल्मी दुनिया में एक ‘खुला राज’ था जो अब सबके सामने आ चुका है.’ हिमानी ने बताया, ‘आईटीए अवॉर्ड के लिए जब हम एक बार दुबई में थे तो उन्होंने शराब पी ली थी. उनकी पत्नी चिंता में थी और उनके व्यवहार से परेशान थी, क्योंकि वह नशे में धुत थे. एक बार उन्हें खुले में पेशाब करते पकड़ा गया था और बदतमीजी करने के कारण उन्हें विमान से भी उतार दिया गया था.’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper