आसमान से घर में गिरा अनमोल ‘खजाना’, एक झटके में करोड़पति हुआ खुशनसीब !

लखनऊ: कहते हैं कि जब ईश्‍वर किसी को देता है तो छप्‍पर फाड़कर देता है। कुछ ऐसा हुआ इंडोनेशिया के ताबूत बनाने वाले 33 साल के जोसुआ हुतागलुंग के साथ। जोसुआ के घर पर आसमान से एक अनमोल खजाना गिर और वह देखते ही देखते 10 करोड़ रुपये के मालिक बन गए। दरअसल, जोसुआ के घर पर आकाश से एक बड़ा सा उल्‍कापिंड गिरा। यह करीब साढ़े 4 अरब साल पुराना दुर्लभ उल्‍कापिंड है। आइए जानते हैं क्‍या है पूरा मामला… ​

उल्‍कापिंड के गिरने से घर की छत में बड़ा सा छेद

उल्‍कापिंड के गिरने के समय जोसुआ उत्‍तरी सुमात्रा के कोलांग में अपने घर के बगल में काम कर रहे थे। इस आकाश से गिरे पत्‍थर का वजन करीब 2.1 किलोग्राम है। उल्‍कापिंड के गिरने से उनके घर की छत में बड़ा सा छेद हो गया। यही नहीं उल्‍कापिंड गिरने पर 15 सेंटीमीटर जमीन में धंस भी गया। आकाश से गिरा यह पत्‍थर जोसुआ के आर्थिक संकट को दूर कर गया। इस उल्‍कापिंड के बदले जोसुआ को 14 लाख पाउंड या करीब 10 करोड़ रुपये मिले हैं। जोसुआ ने जमीन के अंदर गड्ढा खोदकर अनमोल उल्‍कापिंड को बाहर निकाला।

4.5 अरब साल पुराना उल्‍कापिंड, 857 डॉलर प्रतिग्राम कीमत

बताया जा रहा है कि यह उल्‍कापिंड 4.5 अरब साल पुराना है और अत्‍यंत दुर्लभ प्रजाति में इसकी गणना की जाती है। इसकी कीमत 857 डॉलर प्रतिग्राम है। जोसुआ ने बताया कि जब उन्‍होंने इसे जमीन से निकाला तो वह काफी गरम था और आंशिक रूप से टूटा हुआ था। जोसुआ ने कहा कि उल्‍कापिंड के गिरने की आवाज इतनी तेज थी कि उसके घर के कई हिस्‍सा हिल गए। उन्‍होंने कहा, ‘जब मैंने छता को देखा तो यह टूटी हुई थी। मुझे पूरा संदेह हो गया कि यह पत्‍थर निश्चित रूप से आसमान से गिरा है जिसे कई लोग उल्‍कापिंड कहते हैं। ऐसा इसलिए था कि मेरी छत पर किसी का पत्‍थर फेंकना लगभग असंभव है।

जोसुआ को म‍िली 30 साल तक काम करने की सैलरी 

स्‍थानीय लोगों ने बताया कि उन्‍होंने बहुत तेज धमाके की आवाज सुनी जिससे उनके घर भी हिल गए। दुर्लभ उल्‍कापिंड के गिरने के बाद जोसुआ के घर उसे देखने वालों का तांता लगा हुआ है। जोसुआ ने कहा, ‘बहुत से लोग मेरे घर आ रहे हैं और उसे उत्‍सुकता के साथ देख रहे हैं। इस पत्‍थर से जोसुआ को इतना पैसा मिल गया है जितना उसे 30 साल तक काम करने के बाद सैलरी से मिलता। तीन बच्‍चों के पिता जोसुआ ने कहा कि वह इस पैसे से अपने समुदाय के लिए चर्च का निर्माण करेंगे। उन्‍होंने कहा कि मैं हमेशा से एक बेटी पैदा होने की कल्‍पना करता था और अब लग रहा है कि यह पत्‍थर गिरना एक अच्‍छा संकेत है।

Source:- Navbharat Times 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper