इन देशों ने दे दी है भारतीय पर्यटकों को छूट

नई दिल्ली: भारत में साप्ताहिक कोरोना केसेज में गिरावट देखने को मिलने लगी है। साथ ही डेली पॉजिटिविटी रेट भी स्थिर बना हुआ है। इन सबका फायदा यह हुआ है कि कई देशों ने भारतीय पर्यटकों के लिए अपनी सीमाएं खोल दी हैं। गौरतलब है कि लगातार 17वें दिन भारत में कोरोना पॉजिटिविटी रेट गिरकर 2.37 परसेंट पर पहुंच गया है। वहीं डेली पॉजिटिविटी रेट 2.42 परसेंट पर स्थिर है जो कि तीन परसेंट से भी कम है। इस बीच जर्मनी और कनाडा के अलावा मालदीव ने भी अपने यहां आने वाले पर्यटकों के लिए बंदिशों में छूट दी है।

कनाडा
कनाडा की पब्लिक हेल्थ एजेंसी ने अपने सिटीजंस और स्थायी निवासियों के लिए तीन जुलाई को नियमों में छूट देने की घोषणा की थी। इसका मकसद था कि अंतर्राष्ट्रीय छात्रों, स्थानीय निवासियों के रिश्तेदारों और वैध वर्क परमिट के साथ वहां रह रहे अस्थायी कर्मियों को इसका लाभ मिल सके। यहां आने वाले सभी यात्रियों को, जिनमें कि भारतीय भी शामिल हैं, कनाडा में एंट्री से तीन पहले की कोविड निगेटिव रिपोर्ट लेकर आना होगा। वैसे कनाडा जाने वाली डायरेक्ट फ्लाइट्स 21 जुलाई तक बंद हैं। ऐसे में अगर कोई जाना चाहे तो उसे डायरेक्ट फ्लाइट ही लेनी होगी। इसके अलावा कोविड 19 वैक्सीन की दोनों डोज भी लगी होनी चाहिए। फिलहाल कनाडाई सरकार मॉडर्ना, फाइजर, एस्ट्राजेनका/कोविशील्ड और जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन को मान्यता दे रही है। रशिया की स्पुतनिक और भारत की को-वैक्सीन को अभी भी यहां स्वीकृति नहीं मिली है। अगर कोई ऐसा यात्री कनाडा पहुंचता है, जिसे यहां स्वीकृत वैक्सीन नहीं लगी है तो उसे सरकार द्वारा अप्रूव्ड होटल में खुद को तीन दिन क्वारंटीन करना होगा। साथ ही यहां अरावइल के समय कराया गया उसका कोविड टेस्ट निगेटिव होना चाहिए।

जर्मनी
भारत में जर्मन एंबेसडर वाल्टर जे जिंडनर भी भारत समेत उन देशों से बैन हटाने की घोषणा कर चुके हैं, जहां डेल्टा वैरियंट पाया गया है। भारतीय यात्रियों को वैक्सीनेशन का प्रूफ देना होगा। अगर कोई कोरोना की चपेट में आ चुका है तो उसे ठीक होने का प्रूफ देना होगा। उसे यहां आने के बाद खुद को आइसोलेट होने की जरूरत नहीं रहेगी। गौरतलब है कि सेकंड वेव के दौरान जर्मनी ने भारतीय यात्रियों पर बैन लगा दिया था। जर्मनी ने नेपाल, रूय, ब्रिटेन और पुर्तगाल से आने वाले यात्रियों को भी छूट दे दी है।

मालदीव
मालदीव के लिए 15 जुलाई से फ्लाइट शुरू हो जाएगी। गो फस्र्ट की उड़ान नई दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरू से मालदीव की राजधानी माले के बीच चलेंगी। शुरुआती दौर में यह गुरुवार और रविवार के दिन ही रहेगी। बाद में 4 अगस्त से इसकी सेवाओं में इजाफा होगा। वहीं 3 सितंबर के बाद डेली फ्लाइट्स शुरू हो जाएंगी। वहीं इंडिगो ने भी कोच्चि, बेंगलुरू और मुंबई से डायरेक्ट फ्लाइट्स की घोषणा की है। कोच्चि और बेंगलुरू से फ्लाइट्स 15 जुलाई और मुंबई से 16 जुलाई को शुरू होंगी। 20 जुलाई से मुंबई और माले के बीच डेली फ्लाइट्स शुरू हो जाएंगी। यात्रियों को अपनी कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लेकर जाना अनिवार्य है। साथ ही मालदीव के लिए फ्लाइट पकड़ने से 24 घंटे पहले मालदीव इमिग्रेशन पोर्टल पर हेल्थ डिक्लेरेशन फॉर्म भी सब्मिट करना होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper