इम्युनिटी बढ़ाने में कारगर है जीरा और काली मिर्च मिला दूध

लखनऊ: विश्वभर में इन दिनों इम्युनिटी को लेकर काफी बातें हो रही है. हर कोई अपनी इम्युनिटी को मजबूत करना चाहता है. भारत में भी लोग अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने के लिए कई तरह की चीजों का सेवन कर रहे है. अब तो सर्दियों का मौसम भी शुरू हो गया है जिसमें इम्युनिटी पावर अच्छा होना जरूरी होता है.

सर्दियों में अगर इम्युनिटी कमजोर होगी तो खांसी, जुखाम आसानी से हमारे शरीर को जकड़ लेती है. इससे बचने के लिए हम आज आपको दो तरह की चीजों के सेवन के बारे में बता रहे है, जो इम्युनिटी पावर बढ़ाने में कारगर साबित है.

  1. जीरा
  2. कालीमिर्च

कैसे बनाये जीरा और काली मिर्च का दूध

इनका दूध बनाने के लिए सबसे पहले आधा चम्मच जीरा और उतनी ही मात्रा में कालीमिर्च ले. अब इनको मिलाकर बारीक पीस ले, जिससे इनका पाउडर बन जायेगा. अब गर्म दूध से भरा एक दूध का गिलास लेकर उसमें जीरा और कालीमिर्च का पाउडर मिला लें.

कब करें सेवन

जीरा और कालीमिर्च के दूध के सेवन करने का सबसे उपयुक्त समय है रात को सोने से पहले. रात को सोते समय एक ग्लास यह दूध पीने से इम्युनिटी तो मजबूत होगी ही साथ ही सर्दियों में होने वाली मौसमी बीमारियों से भी शरीर की सुरक्षा होगी.

इसके अलावा यह दूध ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल करता है. शरीर मे होने वाला कंपन भी कुछ दिनों तक इसका सेवन करने से बंद हो जाता है. कालीमिर्च और जीरा शरीर के जमा फेट को भी निकालते हैं. इससे पाचन शक्ति भी मजबूत होती है.

इस दूध में कैल्शियम, पोटैशियम और आयरन भरपूर मात्रा में होते है जो खून बढ़ाने में भी काफी हद तक कारगर होते है. काली मिर्च और जीरा मिला दूध बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन को सही करके मसल्स को आराम देता है. इसमें एंटीसेप्टिक और विटामिन-मिनरल्स से भरे गुण सर्दी-जुकाम से लड़ने की क्षमता को बढ़ाते है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper