इलाज करवाते हुए डॉक्टर को दिल दे बैठीं थीं वैजयंती माला, दिलचस्प है लव स्टोरी

हिंदी सिनेमा जगत की दुनिया में सुप्रसिद्ध अदाकारा वैजयंती माला भारत की पहली ऐसी अदाकारा हैं जिन्होंने सुपरस्टार का दर्जा हासिल किया था. आइये जानते हैं उनके बारे में कुछ अनकही अनसुलझी बातें.

वैजयंती माला हिंदी सिनेमा जगत की मशहूर और सफल अभिनेत्रियों में से एक हैं। वैजयंती माला वो अभिनेत्री हैं जिन्होंने सबसे पहले हिंदी सिनेमा जगत और साउथ फिल्म इंडस्ट्री दोनो में काम कर सफलता को गले लगाया था। ये कहना बिल्कुल भी गलत नहीं होगा कि वैजयंती माला एक ऐसी अदाकारा हैं। जिनमें हुनर की कोई कमी नहीं है। उनकी एक्टिंग, उनका डांस सभी लाजवाब हैं। वहीं फिल्मों में अगर आज अभिनेत्रियों के डांस को इतनी अहमियत मिलती है तो उसके पीछे की वजह भी वैजयंती माला ही हैं।

मद्रास में जन्मीं भारत की पहली सुपरस्टार

खूबसूरत अदाकारा वैजयंती माला का जन्म 13 अगस्त, 1936 में मद्रास में हुआ था। उनके पिता का नाम एम.डी.रमन और मां का नाम वसुंधरा देवी था। आपको बता दें कि वैजयंती माला की मां भी एक मशूहर अभिनेत्री थीं। ऐसे में जब वैजयंती माला का जन्म हुआ तो उन्हें फिल्मों में करियर बनाने के लिए मां की ओर से पूरा सपोर्ट मिला। आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन हक़ीक़त यही है कि महज 13 साल की उम्र में वैजयंती माला ने एक्टिंग करियर में डेब्यू कर लिया था। उनकी पहली फिल्म तमिल थी। जिसका नाम वड़कई है। फिल्म 1951 में उन्होंने फिल्म बहार से हिंदी सिनेमा जगत में कदम रखा।

फिल्म फेयर अवॉर्ड से किया गया सम्मानित

वैजयंती माला वो अभिनेत्री हैं जिन्होंने के से बढ़ कर एक सुपरहिट फिल्में दे कर सुपरस्टार का दर्जा अपने नाम किया था और यही वो पहली एक्ट्रेस हैं। जिन्हें भारत की पहली सुपरस्टार के नाम से हिंदी सिनेमा में जाना जाता था। फिल्म बहार के बाद वैजयंती माला ने 1957 में फिल्म देवदास में काम किया। फिल्म में उनकी दमदार एक्टिंग के लिए उन्हें फिल्मफेयर के पुरस्कार से भी नवाज़ा गया था। जिसके बाद उनके फिल्मी करियर और तेजी से चलने लगा। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में बने रहने के लिए वैजयंती माला ने हिंदी भी सीखी। उन्होने संगम, साधना, सूरज, मधुमती, गंगा जमुना जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम कर दर्शकों को अपना दीवाना बना लिया है।

सिनेमा के दिग्गज अभिनेताओं संग जुड़ा एक्ट्रेस का नाम

हालांकि सिनेमा जगत में अभिनेत्री और अभिनेताओं के अफेयर के किस्से आम हैं। अक्सर साथ में काम करते हुए एक्टर-एर्क्टस को एक-दूसरे से प्यार हो जाता है। उस जमाने में वैजयंती माला और दिलीप कुमार की जोड़ी को बेहद पसंद किया जाता था। दिलीप कुमार संग वैजयंती माला ने कई सुपरहिट फिल्में की नया दौर, ‘पैगाम’, ‘लीडर’ जैसी शानदार फिल्में की हैं। काम करते-करते दिलीप कुमार और वैजयंती माला का नाम साथ में जुड़ने लगा।

सिलसिला यहीं नहीं खत्म हुआ दिलीप कुमार के बाद अभिनेता राज कपूर संग वैजयंती माला के अफेयर की खबरें सामने आईं। इस बात की भनक जब राज कपूर की पत्नी को लगी तो उन्होंने इन खबरों से साफ मना कर दिया था। हालांकि फिल्म ‘संगम’ के बाद राज कपूर और वैजयंती माला ने एक-दूसरे से दूरी बना ली और सुपरहिट जोड़ी भी टूट गई।

इलाज कर रहे डॉक्टर पर आया सुपरस्टार का दिल

बेशक वैजयंती माला का नाम कई दिग्गज अभिनेताओं के साथ जुड़ता रहा हो, लेकिन उनकी लव स्टोरी बेहद दिलचस्प है। दरअसल, हुआ कुछ यूं था कि एक बार वैजयंती माला को निमोनिया हो गया थ। वो अपना इलाज कराने के लिए डॉ.चमनलाल बाली के पास गईं और उन्हीं से अपना इलाज कराने लगीं। इलाज के दौरान दोनों की मुलाकातें होने लगी और ऐसे ही डॉक्टर और मरीज का रिश्ता प्यार में बदल गया। 10 मार्च 1968 को वैजयंती माला ने डॉ.चमनलाल बाली से शादी कर ली। शादी के बाद उन्होंने एक बेटे को जन्म दिया। ऐसा सिर्फ फिल्मों में ही नहीं देखा गया हक़ीक़त में भी ऐसा होता है जैसा वैजयंती माला के साथ हुआ।

आप अपना प्यार हमारे पेज पर कॉमेंट कर दे सकते हैं हम अक्सर आपके लिए ऐसी अनजानी कहानियां लेकर आते रहते हैं ताकि हम ज़्यादा से ज़्यादा रोचक बातें आप तक पहुचा सकें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper