इस झरने से पानी की जगह बहता है खून, छिपे हैं कई राज

नई दिल्ली: दुनिया के सबसे ठंडे महाद्वीप अंटार्कटिका में एक ऐसा वॉटर फॉल है जहां पानी नहीं बल्कि खून बहता है। यकीन मानिए यहां बहने वाले पानी का रंग खून के जैसा गाढ़ा लाल है। अंटार्कटिका की मैक-मरडो घाटी में स्थित वाटरफॉल से बहने वाले पानी का रंग खून जैसा है। इसी कारण इस वाटरफॉल को ब्लड फॉल नाम से भी जाना जाता है।

सबसे पहले 1911 में अमरीकी जीव विज्ञानी ग्रिफिथ टॉयलर ने इसकी खोज की थी। यह ब्लड फॉल पांच मंजिला इमारत जितना ऊंचा है। इस फॉल से लाल रंग के पानी बहने के पीछे कई कारण मशहूर हैं। सबसे पहला ये कि जीव विज्ञानियों के अनुसार, ग्लेशियर के नीचे बहने वाली झील जम गई और ग्लेशियर में दरार पड़ने से बाहर आने लगा।

पानी में मौजूद आयरन ऑक्साइड हवा के संपर्क में आकर लाल रंग का हो जाता है, जिससे पानी का रंग खून जैसा दिखता है। वहीं लोगों का मानना है कि यहां कई आत्माओं का निवास है, जो लोगों को मार देती है, इसी वजह से इसका रंग लाल है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper