इस दुकान पर 1 कप चाय की कीमत है 1 हजार रुपए, जानिए क्या है खासियत

चाय (Tea) एक ऐसी चीज है, जिसे हर कोई पीना पसंद करता है. ज्यादातर लोग तो चाय के बहुत ज्यादा शौकीन होते हैं. लेकिन, क्या आप एक कप चाय पीने के लिए एक हजार रुपए खर्च करना चाहेंगे. यह बात सुनकर वैसे तो आप सभी चौंक गए होंगे कि भला एक हजार की चाय कोई भी आम आदमी तो कभी नहीं पीना चाहेगा. लेकिन, आपको बता दें कि कोलकाता में एक चाय की दुकान पर एक कप चाय की कीमत एक हजार रुपए है.

बता दें कि पार्थ प्रतिम गांगुली (Partha Pratim Ganguly) कोलकाता (Kolkata) के मुकुंदपुर में निर्जश टी स्टॉल (tea stall Nirjash) के मालिक और संस्थापक हैं. एनडीटीवी फूड से विशेष रूप से बात करते हुए, उन्होंने हमें अपने चाय के कारोबार के बारे में बताया, जिसकी शुरुआत 6 जनवरी, 2014 को हुई थी. कुछ साल पहले तक एक निजी फर्म के साथ नौकरी करने के बाद उन्होंने यह टी स्टॉल खोल ली. यहां पर कई तरह के फ्लेवर वाली चाय सर्व करते हैं, जैसे कि ग्रीन टी, ब्लैक टी, ओलॉन्ग टी, लैवेंडर टी, मकाएबरी. 100 से अधिक प्रकार की चाय, जिनमें से 60-75 दार्जिलिंग से हैं और बाकी दुनिया भर से हैं.

चाय की अन्य किस्मों में कई स्वाद शामिल हैं जैसे कि सिल्वर नीडल व्हाइट टी, लैवेंडर टी, हिबिस्कस टी, वाइन टी, तुलसी जिंजर टी, ब्लू टिश्यन टी, तीस्ता वैली टी, मकईबारी टी, रूबिएस टी और ओकेटी टी. कुछ साल पहले पार्थ प्रतिम गांगुली एक कंपनी के लिए काम कर रहे थे और इसके साथ आगे बढ़ने की योजना बनाई थी. हालांकि, उन्होंने बाद में अपनी नौकरी छोड़ने और अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने का फैसला किया. Nirjash को 2014 में लॉन्च किया गया था और यह पश्चिम बंगाल की राजधानी में एक बहुत लोकप्रिय चाय स्टाल है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper