इस साल मॉनसून की विदाई में होगी देरी, इन राज्यों में अभी होगी तेज बारिश

देश के कई हिस्सों में लगातार बारिश हो रही है. यूपी, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान मध्य प्रदेश के कई इलाकों में बारिश ने लोगों को पानी-पानी कर रखा है. ये वो वक्त होता है जब मॉनसून की विदाई हो रही होती है. देश में मॉनसून की वापसी की तारीख शुक्रवार को अपेक्षित थी. लेकिन जिस तरह से बारिश हो रही है वैसे में इस महीने के अंत तक इसके सक्रिय रहने की संभावना है. मौसम विभाग की मानें तो बंगाल की खाड़ी पर संभवत तीन लगातार निम्न दबाव बनेंगे. जिसकी वजह से बारिश इस महीने के अंत तक होने की उम्मीद है.

सितंबर में 33.4 प्रतिशत अधिक वर्षा हुई

भारत में सितंबर में अब तक 33.4% अधिक वर्षा हुई है. जो अगस्त के अंतिम सप्ताह में 10 प्रतिशत मॉनसून की कमी में 4 प्रतिशत इजाफा करने में मदद करती है. अगस्त महीने में अपेक्षा से कम बारिश हुई थी. लेकिन सितंबर में हुई बारिश से इस साल मॉनसून को सामान्य श्रेणी में डाल देगा.

ओडिशा पश्चिम बंगाल में चार-पांच दिन बारिश की उम्मीद

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि एक चक्रवाती परिसंचरण शनिवार से ओडिशा पश्चिम बंगाल को प्रभावित करना शुरू कर सकता है. जिसकी वजह से चार से पांच दिनों तक बारिश होने की उम्मीद है. आईएमडी के प्रमुख मृत्युंजय महापात्र ने की मानें तो इस महीने के अंत तक बंगाल की खाड़ी के ऊपर दो चक्रवाती तूफान बनने मध्य उससे सटे उत्तर-पश्चिम भारत में इसके बढ़ने की संभावना के कारण मॉनसून अभी नहीं जाने वाली है.

इन राज्यों में बारिश की संभावना

आईएमडी के प्रमुख ने यह भी बताया कि 28 सितंबर के आसपास बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवाती तूफान के बनने की संभावना है, लेकिन इस बारे में अभी कुछ भी बोलना जल्दीबाजी होगी. वर्तमान में, उत्तरी मध्य प्रदेश उससे सटे दक्षिण उत्तर प्रदेश पर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है. मौसम विभाग ने कहा कि इसकी वजह से अब अगले तीन दिनों में गुजरात, राजस्थान पश्चिम मध्य प्रदेश में जोरदार बारिश होने की उम्मीद है. रविवार को गुजरात में तेज बारिश हो सकती है.

दिल्ली में इस बार रिकॉर्ड बारिश

दिल्ली में इस बार रिकॉर्ड तोड़ बारिश हुई है. आईएमडी ने बताया है कि इस महीने दिल्ली में शनिवार शाम तक 383.4 मिमी बारिश दर्ज हुई है, जो सितंबर में 77 वर्षों में सबसे अधिक है. सितंबर, 1944 में शहर में 417.3 मिमी बारिश हुई थी, जो 1901-2021 की अवधि में सबसे अधिक है. आईएमडी के एक अधिकारी ने कहा कि इस सितंबर में शनिवार शाम साढ़े पांच बजे तक 383.4 मिमी बारिश हो चुकी है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper