उच्च शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ रहीं उप्र की लड़कियां: राज्यपाल

लखनऊ ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने मंगलवार को कहा कि उच्च ​शिक्षा के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश की लड़कियां लड़कों को पीछे छोड़कर आगे बढ़ रही हैं। उन्होंने बताया कि इस वर्ष अब तक 22 विश्वविद्यालयों के हुए दीक्षांत समारोह में सबसे अधिक पदक लड़कियों ने प्राप्त किये हैं। राज्यपाल कन्वेंशन सेन्टर के अटल बिहारी बाजपेई सभागार में आयोजित केजीएमयू के 14 वें दीक्षांत समारोह को संबोधित कर रहे थे।

राज्यपाल ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई ने सर्व शिक्षा अभियान की शुरुआत की थी। महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में इसका परिणाम अब दिखने लगा है। वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा दिया। राज्यपाल ने कृतिका गुप्ता को सर्वाधिक गोल्ड मेडल मिलने पर शुभकामना दी।

राज्यपाल ने कहा कि विज्ञान के क्षेत्र में ​आये दिन परिवर्तन होते रहते हैं। इसलिए चिकित्सक को हमेशा सीखते रहना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि आप उनके लिए जिएं जिसके लिए कोई नहीं जीता है। यह भी कहा कि आप अपने माता पिता और शिक्षक जिन्होंने पढ़ाया है उन्हें कभी न भूलें। राज्यपाल ने कहा कि मातृभाषा पर गर्व होना चाहिए।

राज्यपाल ने केजीएमयू के 700 मेडिकल छात्र-छात्राओं को एमबीबीएस, बीडीएस, पीएचडी सहित अन्य उपाधियां दी। इस वर्ष भी मेडल पाने वाले छात्रों मेें से लगभग 63 प्रतिशत मेडल छात्राओं को मिले हैं।

प्रो. शिव कुमार सरीन एवं प्रो. बलराम भार्गव को दी गई मानद उपाधि

राज्यपाल ने दीक्षांत समारोह में इस वर्ष दो विशेषज्ञ प्रो. शिव कुमार सरीन एवं प्रो. बलराम भार्गव को मानद उपाधि डीएससी प्रदान की गयी। प्रो. सरीन वर्तमान में लीवर एवं बिलेयरी साइंसेस, नई दिल्ली के निदेशक हैं तथा प्रो. भार्गव आईसीएमआर, नई दिल्ली के महानिदेशक हैं।

कृतिका गुप्ता को मिला प्रतिष्ठित हीवेट मेडल

इस वर्ष 2013 एमबीबीएस की छात्रा कृतिका गुप्ता को प्रतिष्ठित हीवेट मेडल से नवाजा गया। कृतिका ने एमबीबीएस की फाइनल प्रोफेशनल की परीक्षा में सबसे अधिक अंक हासिल किए हैं। उन्होंने गोरखपुर में 2010 में हाईस्कूल परीक्षा में टाॅप किया था एव साल 2012 में इंटरमीडिएट की परीक्षा में 91 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। उन्होंने एमबीबीएस की परीक्षा 94 प्रतिशत अंको से पास किया है।

चांसलर मेडल से नवाजे गये अरमीन अली

इस वर्ष का चांसलर मेडल बनारस निवासी अरमीन अली को प्रदान किया गया। उन्होंने एमबीबीएस के सभी प्रोफेशनल वर्ष में शानदार प्रदर्शन किया है। चांसलर मेडल एमबीबीएस में सबसे अधिक अंक हासिल करने वाले विद्यार्थी को प्रदान किया जाता है।

समारोह के मुख्य अतिथि पद्म विभूषण डाॅ. एम.एस. वालियाथन थेा। डाॅ. वालियाथन प्रसिद्ध काॅर्डियक थौरेसिक वैसकुलर सर्जन हैं और मौजूदा समय में वह लाइफ स्टाइल पर काम कर रहे हैं। कुलपति प्रो. एम.एल.बी.भट्ट ने चिविवि की वर्षभर की उप​लब्धियां गिनाईं।

इस मौके पर पद्म ब्रह्मदेव शर्मा भाई जी, केजीएमयू के कुलानुशासक डाॅ. आर.ए.एस. कुशवाहा, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा.एस.एन.शंखवार,डा. विनोद जैन,डाॅ. ए.के.सिंह और डाॅ. शादाब मोहम्मद प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper