उत्तराखंड के प्रवासियों को सुरत से लाने के लिए 11, 12 मई को चलेगी ट्रेन

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की कोशिशों से अब गुजरात में फंसे प्रवासी घर लौट सकेंगे। मुख्यमंत्री की पहल पर रेलवे ने 11 और 12 मई को सुरत से विशेष ट्रेनें चलाकर प्रवासियों को उत्तराखंड भेजने की तैयारी की है। मुख्यमंत्री रावत ने रविवार को बताया कि प्रवासी उत्तराखंडियों को लेकर पहली विशेष ट्रेन 11 मई को सुबह चार बजे से काठगोदाम के लिए चलेगी। अगले दिन 12 मई को भी सुरत से विशेष ट्रेन हरिद्वार के लिए चलेगी। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस विशेष प्रयास के लिए रेलमंत्री पीयूष गोयल का आभार जताया।

मुख्यमंत्री ने एक वीडियो संदेश में कहा कि 11 मई वाली ट्रेन सुबह चार बजे रवाना होगी, लेकिन अभी 12 मई की ट्रेन का समय निर्धारित नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री ने प्रवासियों से सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करने की अपील करते हुए कहा कि जो भी नियम तय किए गए हैं, उस पर जरूर अमल करें। तभी कोरोना वायरस से बचाव होगा।

उन्होंने प्रवासियों से कहा कि गृहराज्य लौटने के बाद स्वास्थ्य नियमों का पालन जरूरी है। हर व्यक्ति मास्क जरूर लगाए। साबुन से हाथ धोना जरूरी है। घर पर रहकर लोगों को लॉकडाउन का पालन करना होगा, तभी इस वैश्विक महामारी से बचाव संभव हो सकेगा। मुख्यमंत्री ने गुजरात के उन सामाजिक कार्यकर्ताओं का भी आभार जताया, जिन्होंने लॉकडाउन के दौरान उत्तराखंड के लोगों के खाने और रहने की उचित व्यवस्था की।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper