उत्तराखंड में कोरोना कहर के बीच 28 अप्रैल तक बंद रहेंगे सरकारी ऑफिस

देहरादून: बेकाबू होती कोरोना की दूसरी लहर के मद्देनजर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के प्रभावी रोकथाम के लिए सचिवालय में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सर्वदलीय समीक्षा बैठक की। इस दौरान उत्तराखंड सरकार ने फैसला किया कि कोरोना के प्रसार को काबू के उपाय के तौर पर सभी सरकारी कार्यालयों को 23 से 28 अप्रैल तक बंद रखा जाएगा।

हालांकि सभी अधिकारी मुख्यालय में मौजूद रहेंगे और अपने मोबाइल फोन को हर समय चालू रखेंगे ताकि जरूरत पड़ने पर उन्हें कार्यालय बुलाया जा सके। इधर, प्रदेश के गवर्नमेंट नर्सिंग कॉलेज के छात्रों की कोरोना पॉजिटिव आए है। जानकारी के मुताबित सुरसिंगधार नर्सिंग कॉलेज, टिहरी में 95 छात्रों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है, जिसके बाद कॉलेज प्रशासन से लेकर स्वास्थ्य विभाग तक में हड़कंप मच गया। इधर, प्रशासन ने एहतियातन कॉलेज को कंटेनमेंट जोन घोषित कर सभी छात्रों को कॉलेज में ही क्वारंटाइन कर दिया है।

उत्तराखंड के सीएम का ऐलान, 1 मई से राज्य के अंदर फ्री में लगाई जाएगी वैक्सीन उत्तराखंड कोरोना ट्रैकर शनिवार को उत्तराखंड में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5,084 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही 1,466 लोगों ने कोरोना को मात देकर अस्पताल से घर लौटे हैं। वहीं 81 लोगों की इस जानलेवा वायरस से मौत हो गई। देहरादून में 1736, नैनीताल में 958, हरिद्वार में 592, ऊधमसिंहनगर में 378, पौड़ी में 301, चंपावत में 321 केस. उत्तरकाशी में 215, टिहरी में 190 और पिथौरागढ़ में 123 नए मामले दर्ज हुए है। प्रदेश में अभी भी 33,330 कोरोना के सक्रिय केस है। कुल आंकड़ों पर नजर डाले तो प्रदेश में कोरोना के कुल 1,47,433 मामले है। वहीं 1,08,916 लोगों कोरोना से रिकवरी हुए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper