उत्तराखंड में मुस्लिम लड़कियों की स्कूल छोड़ने की दर 90 फ़ीसदी

देहरादून: केंद्र सरकार के ताज़ा आंकड़ों के अनुसार उत्तराखंड में मुस्लिम लड़कियों की स्कूल ड्रापआउट दर लगभग 90 फ़ीसदी है। ज्ञात हो कि उत्तराखंड में अल्पसंख्यक आबादी लगभग सत्रह फ़ीसदी है। इनमें मुस्लिम जनसंख्या लगभग चौदह फीसदी के आसपास हैं। प्राथमिक स्कूल की पहली कक्षा में पढ़ने वाली मुस्लिम लड़कियों की संख्या 62,241 है, लेकिन दसवीं तक आते-आते यह सिर्फ़ 12,062 रह जाती हैं। बारहवीं कक्षा तक यह संख्या चिंताजनक रूप से गिरकर सिर्फ़ 6,797 ही रह जाती है।

केंद्र सरकार से जारी किए गए आंकड़ों से यह डरावनी हक़ीक़त खुलने के बाद अल्पसंख्यक महकमे के अधिकारियों के सामने ड्रॉप आउट दर पर अंकुश लगाने का दबाव बन गया ओहै। उल्लेखनीय है कि राज्य में लड़कियों के ड्रॉप आउट की चिंताजनक स्थिति की जानकारी पहली बार सामने नहीं आई है। इस समस्या पर सूबे के अल्पसंख्यक आयोग ने भी एक रिपोर्ट तैयार कर सरकार को भेजी थी, लेकिन उस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper