---- 300x250_1 ----
--- 300x250_2 -----

उत्तर प्रदेश की नई सम्भावनाओं को उड़ान देगा यह बजट : सीएम योगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वर्ष 2021—22 के लिए सोमवार को राज्य विधानसभा में प्रस्तुत बजट को लोक कल्याणकारी, विकासोन्मुख और सर्वसमाज के विकास को समर्पित बताते हुए कहा कि यह सर्व समाज के सर्वांगीण विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा। मुख्यमंत्री ने विधानसभा में वित्त मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा बजट पेश किये जाने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि यह बजट लोक कल्याणकारी, विकासोन्मुख और सर्वसमाज के विकास को समर्पित है।

‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’ के लोकतांत्रिक भावना से परिपूर्ण यह बजट सर्व समाज के सर्वांगीण विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि राजस्व की प्राप्तियों को लेकर सरकार के जो लक्ष्य थे, उसके अनुरूप प्राप्तियों को हासिल करने में कुछ कठिनाई हुई। फिर भी सरकार ने स्थितियों को बेहतर ढंग से सम्भाला। उन्होंने कहा कि यह बजट एक नई आशा, नई ऊर्जा और उत्तर प्रदेश की नई संभावनाओं को उड़ान देने वाला है। इस बजट में हर हाथ को काम देने का संकल्प निहित है।

यह बजट प्रदेश के गांव, गरीब किसानों, नौजवानों, महिलाओं और समाज के प्रत्येक तबके का प्रतिनिधित्व करने वाला बजट है। योगी ने कहा कि सरकार ने कोविड-19 महामारी के बावजूद प्रदेश के वित्तीय अनुशासन को बनाए रखते हुए लोक कल्याण की भावना के तहत समाज के हर वर्ग को इसमें शामिल कर महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार का यह बजट समग्र और समावेशी विकास तथा प्रदेश के विभिन्न वर्गों के स्वावलंबन के माध्यम से सशक्तिकरण को आधार बनाकर प्रस्तुत किया गया है। प्रदेश में ‘ईज ऑफ लिविंग’ को और आसान बनाने के लिए हर घर को जल, हर घर को बिजली, हर गांव को सड़क और हर गांव को डिजिटल बनाने की प्रक्रिया के साथ प्रदेश में समग्र विकास की रूपरेखा इस बजट के माध्यम से प्रारंभ की गई है।

उन्होंने कहा कि बजट में ‘मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना’ को विस्तार दिया गया है। इसमें अब किसान के साथ उसके परिवार के कमाऊ सदस्य, बटाईदार और अन्य लोगों को भी शामिल किया गया है। अगर दुर्घटना से किसी ऐसे व्यक्ति की मौत होती है तो इस बीमा योजना के माध्यम से 5 लाख रुपये की सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो किसान परिवार ‘आयुष्मान भारत योजना के स्वास्थ्य बीमा से कवर नहीं हुए हैं, उन्हें मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत पांच लाख रुपये के नि:शुल्क स्वास्थ्य बीमा का भी प्रावधान इस बार इस बजट में किया गया है। योगी ने कहा कि महिलाओं की दृष्टि से कुछ नई योजनाएं शुरू की गई हैं। ‘मुख्यमंत्री सुमंगला योजना’ को व्यापक आयाम मिला है।

इस साल ‘मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना’ के तौर पर एक नई योजना लाई जा रही है। इसके तहत छह महीने से लेकर पांच साल तक के किसी भी कुपोषित बच्चे को पोषित करने के लिए या खून की कमी से जूझ रही 11 से 14 साल की बच्चियों के लिए भी बजट में प्रावधान किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं के लिए पिछले दिनों ‘मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना’ शुरू की गयी थी। इस बजट में इन प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए छात्रों को टैबलेट की व्यवस्था का भी प्रावधान है।

इसके अलावा प्रदेश के हर मंडल मुख्यालय पर एक सैनिक स्कूल स्थापित करने का प्रस्ताव किया गया है। उन्होंने बताया कि अयोध्या में हवाई अड्डे का निर्माण कराया जा रहा है। बाद में इसे अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे में तब्दील किया जाएगा। इसके अलावा प्रदेश के अलीगढ़, मुरादाबाद, मेरठ समेत अनेक जिले भी विमान सेवा से जुड़ेंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper