उत्तर प्रदेश के नगरीय विकास में 05 लाख करोड़ के निवेश की आवश्यकता- आईआईए

लखनऊ। नगर विकास मंत्री एके शर्मा ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था में एमएसएमई महत्वपूर्ण सेक्टर है। इसे शहरी विकास का ग्रोथ सेक्टर कहा जाता है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में शहरी क्षेत्रों का विकास तेजी से होगा। सभी नगरों और बड़े शहरों में अवसरों की भरमार है। एक ट्रिलियन की इकोनॉमी की तरफ हम बढ़ रहे हैं। नगर विकास से संबंधित प्रोजेक्ट के लिए हमे नई टेक्नोलॉजी लाने की जरूरत है। उन्‍होंने कहा कि सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, गीले कचरे से बायोगैस बनाना, इस तरह की तमाम संभावनाएं हैं। उद्यमी आगे आएं और इन संभावनाओं का उपयोग करें। नगर विकास मंत्री बुधवार को आईआईए एवं नगर विकास विभाग के संयुक्त तत्वावधान में गोमतीनगर स्थित आईआईए भवन में आयोजित ‘नगर विकास में निवेश की संभावनाओं’ विषय पर निवेश सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि आज के सम्मेलन में 20 हजार करोड़ रुपए से अधिक का निवेश प्रस्तावित है।

आईआईए के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में आईआईए ‘सरकार के पार्टनर की भूमिका निभा रहा है। अभी तक आईआईए प्रदेश के विभिन्न जिलों में जिला प्रशासन के साथ मिलकर इन्वेस्टर्स समिट आयोजित कर चुका है, जिसमे एक लाख करोड़ से अधिक के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए है। नगर विकास से संबंधित उद्यमों में आईआईए सदस्यों ने लगभग 04 हजार करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव प्रस्तुत किये है। यदि सरकार का सहयोग उद्यमियों के साथ ऐसा ही रहा तो प्रदेश में नगर विकास में 05 लाख करोड़ रुपए की निवेश संभावनाओं में उद्यमी बढ़-चढ़कर भाग लेंगे।

नगर विकास सचिव रंजन कुमार ने कहा कि नगरों में बिजनेस इनोवेशन की अनेक संभावनाएं है, जिसमे कचरा पर आधारित ऊर्जा उत्पादन, कंप्रेस्ड बायोगैस प्लांट, कचरा से सड़क निर्माण, मेकेनाइजड टॉयलेट क्लीनिंग तथा कचरा वाटर शोधन इत्यादि शामिल है। प्रमुख सचिव (नगर विकास) अमृत अभिजात ने कहा कि जिस प्रकार नगरीय विकास में आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कराने की आवश्यकता बढ़ रही है। उससे उद्यमिता विकास की भी अनेक संभावनाएं उत्पन्न हो रही है। अब हम पराम्परिक नगरों से स्मार्ट नगरो की और बढ़ रहे है और हमारे नगरों का स्तर विकसित देशों के समतुल्य शीघ्र होना है। इस मौके पर विशिष्ठ अतिथि राज्य मंत्री नगर विकास राकेश राठौर, आईआईए महासचिव दिनेश गोयल, बाराबंकी चैप्टर चेयरमैन प्रमित सिंह, राष्ट्रीय सचिव अवधेश अग्रवाल मौजूद थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
-----------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper