उत्तर प्रदेश के स्कूल, कालेज व होटल में बनेंगे आश्रय कैंप

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने मजदूर श्रमिक व अन्य कामगार लोगों के लिए स्कूल, कॉलेज, हॉस्टल धर्मशाला और होटल में अस्थाई स्क्रीनिंग कैप और आश्रय स्थल बुनाने का फैसला किया है। अपर मुख्य सचिव राजस्वरेणुका कुमार ने इस संबंध में प्रदेश के सभी ज़िलाधिकारियो को निर्देश भेज दिया है।

उन्होंने कहा है कि नोबल कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए स्थाई स्क्रीनिंग कैंप और आश्रय स्थल स्थापित किए जाएंगे।इसमें इन श्रमिकों मजदूरों व कामगारों को रखा जाएगा जिनके पास रहने के लिए स्थान नहीं है। उन्होंने कहा है कि ऐसी व्यवस्था की जाएगी कि इन कैंपों में अधिक भीड़ ना होने पाए।

इसके साथ इसमें रहने वालों के लिए पर्याप्त मात्रा में भोजन पानी साफ-सफाई के साथ शौचालय साबुन आदि की व्यवस्था करनी होगी। इसमें भोजन की व्यवस्था के लिए स्थानीय स्तर पर स्वयंसेवी संगठनों संस्थाओं की मदद भी ली जा सकती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper