उत्तर प्रदेश में आज से शुरू होगी गैर मान्यता प्राप्त मदरसों का सर्वे का काम,इन पॉइंट पर होगी जांच

लखनऊ: योगी सरकार के आदेश के बाद मंगलवार यानी 13 सितंबर से प्रदेश के गैर मान्यता प्राप मदरसों का सर्वेक्षण शुरू हो रहा है. उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से यह बात भी साफ कर दी गई है कि किन बिंदुओं पर मदरसों का सर्वे होगा. सरकार की ओर से जारी किए गए फॉर्मेट में सर्वे के 12 बिंदु तय किए गए हैं. फॉर्मेट के मुताबिक सर्वे में यह देखा जाएगा कि गैर मान्यता प्राप्त मदरसों की गवर्निंग कैसे होती है? इन्हें पैसे कहां से आते हैं? पाठ्यक्रम क्या है?

उधर, समाजवादी पार्टी समेत अन्य विपक्षी दलों और मुस्लिम संगठनों के विरोध पर यूपी के अल्पसंख्यक मंत्री दानिश अंसारी ने बताया कि सरकार का मकसद मदरसों को मुख्यधारा में लाना है. शिक्षा के आधुनिक तरीकों से जोड़ने की अगर कवायद चल रही है तो इसमें किसी को परेशानी क्या हो सकती है? हालांकि, विरोध के बीच आज से मदरसों का सर्वे शुरू हो जाएगा. 15 अक्टूबर तक टीमों को अपना सर्वे पूरा करना है और 25 अक्टूबर तक यह रिपोर्ट शासन को सौंपनी है.

गौरतलब है कि 31 अगस्त को योगी सरकार ने गैर मान्यता प्राप्त मदरसों के सर्वे का आदेश दिया था. जिसके बाद 10 सितम्बर तक टीम गठित कर ली गई. सरकार की तरफ से 12 बिंदुओं वाला फॉर्मेट भी जारी कर दिया गया है. बता दें कि यूपी में चलने वाले 16 हजार निजी मदरसे अब सरकार के सर्वे की जद में होंगे.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper