उप्र विधानसभा में बिजली दरों में वृद्धि व कानून-व्यवस्था पर हंगामा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विद्युत दरों में की गई वृद्धि और राज्य की बिगड़ी कानून-व्यवस्था के विरोध में गुरुवार को उप्र विधानसभा में समाजवादी पार्टी (सपा) और कांग्रेस पार्टी के सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। ऐसे में विधानसभा अध्यक्ष को तीन बार प्रश्नकाल स्थगित करना पड़ा।

सपा और कांग्रेस पार्टी के सदस्य लाल-सफेद टोपी लगाए तख्ती लेकर वेल में आ गए और जमकर नारेबाजी करने लगे। जबकि बसपा के सदस्य अपने स्थान पर खड़े होकर सरकार विरोधी नारेबाजी कर रहे थे। पीठ से विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित के द्वारा विपक्ष के सदस्यों को समझाने के बाद भी हंगामा जारी रहा। ऐसे में सदन को अव्यवस्थित देख अध्यक्ष को पूरा प्रश्नकाल स्थगित करना पड़ा।

विधानसभा की कार्यवाही गुरुवार को सुबह 11 बजे जैसे ही वंदे मातरम से शुरू हुई। सपा और कांग्रेस के सदस्य बिजली दरों में हुई वृद्धि और बिगड़ी कानून-व्यवस्था के विरोध में हंगामा करने लगे। नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी ने सरकार से बढ़ी हुई बिजली दरों को वापस लेने की मांग की। आजम खां ने भी विद्युत दरों में वृद्धि का विरोध किया और उसे वापस लेने की बात कही।

इसे भी पढ़े: कब्ज ही नहीं मुहांसों की समस्या को दूर करता है गर्म पानी, जानिए गर्म पानी पीने के फायदे

आजम ने कहा कि यह गंभीर विषय है, इस पर चर्चा होनी चाहिए। विधानसभा अध्यक्ष दीक्षित ने विपक्ष को समझाते हुए कहा कि प्रश्नकाल के बाद नियमों के तहत अपना विषय सदन में रखें। लेकिन विपक्ष का हंगामा और बढ़ गया। सपा और कांग्रेस के सदस्य नारे लिखी तख्तियां लेकर वेल में आ गए और नारेबाजी करने लगे।

वेल में मौजूद सदस्य किसान विरोधी और लाठी-डंडों की यह सरकार नहीं चलेगी.. जैसे तमाम सरकार विरोधी नारे लगा रहे थे। अध्यक्ष ने नेता विरोधी दल से यह पूछा कि किन नियमों के तहत यह तख्तियां लाई गई हैं, लेकिन इस पर कोई जवाब नहीं आया और हंगामा जारी रहा। कांग्रेस नेता अजय कुमार लल्लू वेल में रघुपति राघव राजाराम, सरकार को सन्मति दे भगवान जैसा गाना कर रहे थे। सदन को अव्यस्थित देख विस अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को 15 मिनट के लिए स्थगित कर दिया। इसके बाद सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित की गई और बाद में पूरा प्रश्नकाल स्थगित कर दिया गया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper