उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अपने आवास पर की जनसुनवाई, मुलाकात करने वालों का लगा तांता

लखनऊ ब्यूरो। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अपने 07 कालीदास मार्ग आवास पर मौजूद जनसमुदाय की समस्याओं के निराकरण हेतु जन सुनवाई की। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में लोग अपनी समस्याओं के निराकरण हेतु लखनऊ पहुंच रहे है। इसका सीधा अर्थ है कि अधिकारी आम-आदमी की समस्याओं के निराकरण में रूचि नहीं ले रहे है।

यह अत्यन्त गम्भीर बात है जिस विभाग की अधिक शिकायते आ रही है उन विभागों के तथा जिलों के अधिकारियों को दण्डित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी प्राथमिकता से लोगों की समस्यायें सुने तथा उनका स्थानीय स्तर पर निराकरण करें। गरीब जनता को समस्याओं के हल हेतु लखनऊ आना पड़े ऐसी स्थिति बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

जन सुनवाई में अधिकांश शिकायत अवैध कब्जा तथा पुलिस प्रशासन की आयी। इसके अलावा इण्डिया मार्का हैण्डपम्प, आवास, पेंशन, भ्रष्टाचार की जांच, सोलर लाइट, दहेज उत्पीड़न, चिकित्सा हेतु आर्थिक मदद, अपहरण, मजदूरी न दिये जाने, सड़क की मरम्मत, शौचालय निर्माण में धांधली तथा नीलगाय से फसल सुरक्षा सम्बन्धी थी।

जनसुनवाई में ग्राम कादीपुर सुल्तानपुर के कमलेश ,मटका रायबरेली की कुसुमलता ,राजेपुर गाजीपुर के अच्छे लाल सुल्तानपुर के राम कुमार प्रजापति, अजयपुर उन्नाव की लता कुमारी, सिरसा मैनपुरी की मुन्नी देवी सहित अनेक लोगों ने अवैध कब्जा हटवाने की अपील की।

जब किग्राम बरमौ पीलीभीत के धर्मपाल सिंह ग्राम0 ठट्टा आम्बेडकर नगर की छाया पाठक, द्वारा पुलिस प्रशासन द्वारा सहयोग न देने तथा उत्पीड़न की शिकायत की। इस प्रकार उपमुख्यमंत्री ने लगभग 215 से अधिक लोगों की समस्यायें सुनी तथा निराकरण का ढाढ़स बंधाया।

उप मुख्यमंत्री ने जनसुनवाई में आये विभिन्न जनपदों के लोगों से एक एक कर भेंट की तथा उनकी समस्याओं के शीघ्र निस्तारण किये जाने का आश्वासन दिया।

इस दौरान उन्होंने कई जिलों के जिला मजिस्ट्रेट तथा पुलिस अधीक्षकों से बात की तथा निष्पक्ष कार्यवाही कर समस्याओं के निस्तारण के निर्देश दिये तथा जिलाधिकारियों को अवैध कब्जों की जांच के लिए राजस्व अधिकारियों को सम्बंधित गॉव में भेजने के निर्देश दिए उन्होंने कहा कि जनसुनवाई के संबंध में की गई कार्यवाही से सभी को पत्र के माध्यम से अवगत कराया जाएगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper